पृथ्वी शॉ की अगुवाई में मुंबई ने किया कमाल, फाइनल में यूपी को हराकर जीता खिताब

1 min read

Vijay Hazare Trophy 2021 : स्टार खिलाड़ी पृथ्वी शॉ की अगुवाई में मुंबई ने इतिहास रचते हुए विजय हजारे ट्रॉफी को अपने नाम कर लिया है. रविवार को दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में खेले गए फाइनल मुकाबले में मुंबई की टीम ने उत्तर प्रदेश को 6 विकेटसे हराकर खिताभ को अपने नाम किया. मुंबई की इस जीत में विकेटकीपर बल्लेबाज आदित्य तारे के नाबाद 118 और कप्तान पृथ्वी शॉ की 73 रन की पारी का अहम योगदान रहा.

उत्तर प्रदेश ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए माधव कौशिक के 156 गेंदों पर 15 चौकों और चार छक्के की मदद से नाबाद 158 रन की बदौलत 50 ओवर में चार विकेट पर 312 रन बनाए. जिसके जवाब में मुंबई की टीम ने तारे के 107 गेंदों पर 18 चौकों की मदद से नाबाद 118 और पृथ्वी के 39 गेंदों पर 10 चौकों और चार छक्कों के सहारे 73 रन की पारी के दम पर 41.3 ओवर में चार विकेट पर 315 रन बनाकर मैच जीत लिया.

उत्तर प्रदेश की ओर से कौशिक के अलावा समर्थ सिंह ने 55 और अक्शदीप नाथ ने 55 रन बनाए. मुंबई की तरफ से तनुश कोटियान ने दो और प्रशांत सोलंकी ने एक विकेट लिया. मुंबई की पारी में तारे और पृथ्वी के अलावा शिवम दुबे ने 42 और शम्स मुलानी ने 36 रनों का योगदान दिया. उत्तर प्रदेश की ओर से यश दयाल, शिवम मावी, शिवम शर्मा और समीर चौधरी ने एक-एक विकेट लिया.

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर निराशाजनक प्रदर्शन के बाद पृथ्वी शॉ ने शानदार वापसी की है. पृथ्वी शॉ ने विजय हजारे ट्रॉफी के इस सीजन में चार शतकों की मदद से 800 से ज्यादा रन बनाए. पृथ्वी शॉ ऐसे पहले बल्लेबाज हैं जो कि विजय हजारे ट्रॉफी के एक सीजन में 800 से ज्यादा रन बनाने में कामयाब रहे. पृथ्वी शॉ ने विजय हजारे ट्रॉफी में एक दोहरा शतक भी जड़ा.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.