अदूरदर्शिता का परिणाम है कोरोना का फैलाव : रिजवी

File Photo

रायपुर. जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के मीडिया प्रमुख, मध्यप्रदेश पाठ्यपुस्तक निगम के पूर्व अध्यक्ष, पूर्व उपमहापौर तथा वरिष्ठ अधिवक्ता इकबाल अहमद रिजवी ने कहा है कि रोड सेफ्टी लीजेंड क्रिकेट टूर्नामेंट, पवित्र गिरौदपुरी धाम तथा श्रद्धा का राजिम मेला में हजारों की उपस्थिति का परिणाम है कि सरकार को लाकडाऊन लगाने बाध्य होना पड़ा। यदि पहले ही सरकार द्वारा इन आयोजनों से होने वाले संक्रमण पर सर्वदलीय मंथन कर लिया जाता तो कोरोना मरीजों की संख्या एवं मौतों के भयावह आंकड़ों से बचा जा सकता था। रिजवी ने आगे कहा है कि सरकार के प्रमुख मंत्रीगण, विधायकगण, वरिष्ठ कार्यकर्ता एवं समाजसेवी सभी सार्वजनिक कार्यक्रमों को स्थगित करे या आनलाईन तथा वर्चुअल तरीका अपना कर कोरोना की बढ़त को रोका जा सकता है। शराब बिक्री केन्द्रों एवं दुकानों पर उमड़ती भीड़ ने भी आग में घी का काम किया है। शराब बिक्री की दुकानों पर भारी भीड़ को रोका नहीं गया तो आने वाले समय में संक्रमितों की संख्या प्रदेश में बेकाबू होती जाऐगी। सरकार को शराब बिक्री से होने वाली आय से इतना ज्यादा मोह है तो जोमेटो की तर्ज पर घर पहुंच सेवा प्रारंभ कर देना चाहिए क्योंकि लाकडाऊन से आदतन शराबखोर बेचैन हैं। उन्हें शराब उपलब्ध हो जाऐगी तथा सरकार की आय में बेहद इजाफा होगा, जो वह चाहती है।

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.