क्रिकेट मैच का आयोजन कर सरकार आफत में पड़ी : रिजवी

1 min read

File Photo

रायपुर. जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के मीडिया प्रमुख, मध्यप्रदेश पाठ्यपुस्तक निगम के पूर्व अध्यक्ष, पूर्व उपमहापौर तथा वरिष्ठ अधिवक्ता इकबाल अहमद रिजवी ने प्रदेश में कोरोना के कहर की बढ़ी रफ्तार के लिए शासन-प्रशासन एवं जनता को जिम्मेदार ठहराया है। प्रदेशवासियों में जागरूकता के अभाव ने आग में घी का काम भी कर दिखाया है। आज कोरोना ने सुनामी का रूप धारण करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। संक्रमितों के बढ़ते आंकड़े तथा मृतकों की बढ़ती तादाद शासन के लिए चुनौती बन चुकी है।  रिजवी ने कहा है कि गत दिवस प्रदेश में रोड सेफ्टी लीजेन्ड क्रिकेट टूर्नामेंट के दौरान ग्राम परसदा स्थित शहीद वीरनारायण सिंह अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में बहुत ज्यादा संख्या में उपस्थित दर्शकों ने मास्क लगाने एवं सामाजिक दूरी की धज्जियां उड़ा दी थी। प्रदेश की विषम परिस्थितियों को देखते हुए सरकार को इस आयोजन के लिए मना कर देना चाहिए था। उसी प्रकार धार्मिक आयोजन जैसे राजिम मेला तथा पवित्र गिरौदपुरी धाम में लाखों श्रद्धालुओं द्वारा सभी नियमों को ताक पर रख दिया गया था। ऐसे सभी भीड़भाड़ वाले स्थलों ने कोरोना प्रजनन केन्द्र की भूमिका निभाई है।  रिजवी ने कहा है कि उपरोक्त वर्णित स्थलों पर यदि दर्शकों एवं श्रद्धालुओं द्वारा घोषित नियमों का सख्ती से पालन किया गया होता तो कोरोना की बाढ़ से बचा जा सकता था। अब शासन-प्रशासन को वाजिब सख्ती बरतने का समय आ गया है। इसमें कोताही बरतना कोरोना के संक्रमण को और अधिक बढ़ाने का कारण बनेगा। मंत्रियों द्वारा किसी भी प्रकार के भूमिपूजन, शिलान्यास एवं उद्घाटन के कार्यक्रम आनलाईन ही किए जाए। इससे मंत्रियों के कार्यक्रम में पहुंचने वाली भीड़ से निजात मिलेगी तथा संक्रमण की रफ्तार पर रोक स्वमेव लग सकेगी। 

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.