सुनील गावस्कर ने धोनी की कप्तानी को बताया शानदार, कहा- उनकी सलाह के चलते जडेजा को मिला बटलर का विकेट

आईपीएल 2021 में कल चेन्नई ने राजस्थान को 45 रनों से हरा दिया. चेन्नई से मिले 189 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए एक समय राजस्थान की टीम बेहद मजबूत स्थिति में लग रही थी. जॉस बटलर 49 रन बनाकर खेल रहे थे और बेहद खतरनाक नजर आ रहे थे. इसी बीच गेंदबाजी कर रहे जडेजा को कप्तान धोनी ने कुछ ऐसी सलाह दी जिसके चलते उन्होंने 12वें ओवर में बटलर को आउट कर पैवेलियन की राह दिखायी. मैच के बाद भारत के भूतपूर्व सलामी बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने भी धोनी की कप्तानी और खेल की उनकी समझ की जमकर तारीफ की.

दरअसल 10वें ओवर में बटलर ने जडेजा की गेंद पर छक्का मारा जिसके चलते गेंद को बदलना पड़ा. जडेजा जब टीम का 12वां ओवर डालने आए तब धोनी स्टम्प माइक पर कहते हुए सुने गए कि, “ये सूखा बॉल है ज्यादा घूमेगा.” धोनी की ये बात सही साबित हुयी और जडेजा की अगली ही गेंद बटलर के बल्ले को चकमा देती हुयी विकेट पर जा लगी.

मैच के बाद गावस्कर ने धोनी की तारीफ करते हुए कहा, “धोनी ने गेंदबाजों का जिस तरह इस्तेमाल किया वो तारीफ के काबिल है. बटलर के छक्का मारने के बाद खेल में सूखी बॉल के आते ही उन्होंने जडेजा को इसके टर्न होने की बात कही और अगली गेंद पर ऐसा ही हुआ. सूखी गेंद का वो ज्यादा से ज्यादा फायदा उठाना चाहते थे इसलिए उन्होंने तुरंत अगले ही ओवर में अपने स्पिनर मोईन अली को गेंद थमा दी. जो की धोनी द्वारा लिया गया बेहद ही सूझबूझ भरा कदम साबित हुआ.”

उनकी फील्डिंग प्लेसमेंट्स की तारीफ करते हुए गावस्कर ने कहा, “इस मैच में हर श्रेत्र में उनकी कप्तानी लाजवाब थी. सीएसके के लिए कप्तान के तौर पर अपने 200वें मैच में उन्होंने हर तरह से सटीक फैसले लिए. उनकी फील्डिंग प्लेसमेंट्स भी शानदार थी. जडेजा ने मैच में चार कैच लेने के साथ साथ कई चौके भी बचाए. सही स्थान पर सही खिलाड़ी लगना बेहद जरूरी होता है और आज धोनी ने बखूबी ये काम किया.”

धोनी द्वारा जडेजा को दी गयी सलाह पर प्रज्ञान ओझा ने भी ट्वीट करते हुए उनकी प्रसंशा की है. अपने ट्वीट में ओझा ने लिखा, “और जडेजा को धोनी द्वारा दी गयी सलाह से मैच सीएसके के गेंदबाजों के पक्ष में आ गया है.”

न्यूजीलैंड के भूतपूर्व ऑलराउंडर स्कॉट स्टायरिस ने भी कहा की उन्हें उम्मीद नहीं थी कि राजस्थान की पारी के दौरान गेंद इतना घूमेगी. उन्होंने कहा, “मुझे नहीं लगता किसी ने भी दूसरी पारी में गेंद के इतना टर्न होने की उम्मीद की होगी. लेकिन धोनी की खेल पर पकड़ बेहद मजबूत थी और उन्होंने परिस्थितियों को अच्छी तरह से भांप लिया था. पिछले बारह सालों में उन्होंने जिस तरह सीएसके की अगुवाई की है वो कमाल ही है. इस साल वो और बेहतर तरीके से खेल का मजा लेते नजर आ रहे हैं.”

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.