विभिन्न मांगों को लेकर सिम्स के डॉक्टरों ने किया विरोध प्रदर्शन

1 min read

1. समान पद एवं समान योग्यता वाले रायपुर के JN मेडिकल कॉलेज के संविदा एवं अनुबंधित चिकित्सकों का वेतन वृद्धि 1.1.2021 से प्रभावशील कर दिया गया है जिस वजह से वेतन विसंगति उत्पन्न हुई है।

2.  वेतन विसंगति के कारण Junior छात्रों की छात्रवृत्ति सीनियर डॉक्टर से अधिक होना भी निराशाजनक है एवं सीनियर Resident Dr’s का मनोबल गिराने वाला है।

3. CIMS में स्टाफ की कमी होने के कारण चिकित्सकों को अनेक बार Covid-19 ड्यूटी करने के कारण शारीरिक एवं मानसिक तनाव का सामना करना पड़ रहा है, अन्य राज्यों की तरह covid ड्यूटी मे सेवारत चिकित्सकों को प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाए।

4. किसी चिकित्सक को Corona से संक्रमित होने की स्थिति मे उसकी चिकित्सा का समुचित प्रबंध था अप्रिय घटना होने पर शाशन के द्वारा उचित मुआवजा का प्रावधान सुनिश्चित करें, ताकि उनके परिवार पर जीवन यापन करने की समस्या उत्पन्न ना हो।

5. CIMS में स्टाफ की कमी होने के कारण हमरा अनुरोध है कि स्टाफ की कमी  को अतिशीघ्र पूर्ति की जाए।

वेतन विसंगतियों को दूर कर वेतन वृद्धि एवं covid ड्यूटी का अतिरिक्त कार्यभार होने के कारण प्रोत्साहन राशि को मांग हम विगत 4 महीनों से कर रहे हैं.. लेकिन अभी तक शाशन की ओर से सकारात्मक एवं सन्तुष्टजनक कदम नहीं उठाया गया है..यह चिंता का विषय है कि शाशन हम से चिकित्सीय एवं Covid सेवा की उम्मीद कर्ता है…किन्तु अन्याय के रूप मे वेतन विसंगति दूर कर वेतन वृद्धि नहीं की गयी है. हमारा विरोध प्रदर्शन तब तक जारी रहेगा जब तक वेतन विसंगति को दूर कर वेतन वृद्धि नहीं हो जाती है! मानव हित एवं इस आपदा के समय चिकित्सीय सेवा जैसे OPD, Emergency and Covid ड्यूटी सुचारू रूप से संचालित होती रहेंगी, इसमे कोई बाधा उत्पन्न नहीं होगी।

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.