SECR में मानव संसाधन प्रबंधन प्रणाली हेल्प डेस्क की हुई शुरुआत

बिलासपुर. दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे मुख्यालय में आज प्रधान मुख्य कार्मिक अधिकारी सुखबीर सिंह के द्वारा मानव संसाधन प्रबंधन प्रणाली (एचआरएमएस) हेल्प डेस्क का शुभारंभ किया गया । इस अवसर पर राजेन्द्र कुमार अग्रवाल, मुख्य कार्मिक अधिकारी (आईआर) तथा कार्मिक विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारीगण उपस्थित थे । मानव संसाधन प्रबंधन प्रणाली (एचआरएमएस) हेल्प डेस्क की मदद से सेवारत एवं सेवानिवृत रेल कर्मचारियो को इस प्रणाली से संबन्धित तकनीकी सहायता उपलब्ध कराई जाएगी । इसी तरह की सेवा दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के तीनों रेल मंडलो बिलासपुर, रायपुर एवं नागपुर के साथ ही दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के अंतर्गत सभी वर्कशाप में की जानी है ।

भारतीय रेल ने हाल ही में पूरी तरह डिजिटल ऑनलाइन मानव संसाधन प्रबंधन प्रणाली (एचआरएमएस) लॉन्च की है । मानव संसाधन प्रबंधन प्रणाली (एचआरएमएस) उत्पादकता और कर्मचारी संतुष्टि में सुधार का लाभ लेने के लिए भारतीय रेल की उच्च  प्राथमिकता वाली परियोजना है । यह रेल प्रणाली की सक्षमता और सुधार तथा भारत को डिजिटल रूप से सशक्त समाज और ज्ञान अर्थव्यवस्था में बदलने के माननीय प्रधानमंत्री के विजन को साकार करने की दिशा में एक सशक्त कदम है । एचआरएमएस के माध्यम से सभी कर्मचारियों के कामकाज में आसानी तथा कर्मचारियों को टैक्नोलॉजी की अधिक से अधिक जानकारी उपलब्ध कराने में मदद मिली है ।

भारतीय रेलवे में रेलवे कर्मचारियों और पेंशनधारियों के लिए एचआरएमएस तथा यूजर डिपो के कई मॉडयूल शुरू किए गए है जिनमें कर्मचारी स्वयंसेवा (ईएसएस) मॉड्यूल डाटा परिवर्तन से संबंधित कम्युनिकेशन सहित एचआरएमएस के विभिन्न मॉड्यूलों से इंटरऐक्ट करने में रेल कर्मचारियों को सक्षम बनाता है । प्रोविडेंट फंड (पीएफ) एडवांस मॉड्यूल के माध्यम से रेलवे कर्मचारी अपना पीएफ बैलेंस देख ऑनलाइन देखकर  पीएफ एडवांस के लिए ऑनलाइन आवेदन कर रहे है । सैटलमेंट मॉड्यूल से सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियों की सभी अदायगी प्रक्रिया डिजिटल हो गई है । कर्मचारी ऑनलाइन रूप से अपने सैटलमेंट/पेंशन बुकलेट को भर सकते हैं । सर्विस और ब्योरा ऑनलाइन प्राप्त किया जा सकता है और पेंशन का पूरा काम ऑनलाइन होता है । इससे कागज के इस्तेमाल में कमी तथा सेवानिवृत्त हो रहे कर्मचारियों के बकायों की प्रोसेसिंग की मॉनिटरिंग भी सुनिश्चित की जा रही है ।

भारतीय रेल ने पहले ही एचआरएमएस के अनेक मॉड्यूल लॉन्च  किए हैं । इनमें एम्प्लॉय मास्टर मॉड्यूल है, जिसमें रेलवे कर्मचारी का सभी बुनियादी सूचना ब्यो‍रा मौजूद रहता है । इलैक्ट्रॉनिक सर्विस रिकॉर्ड मॉड्यूल ने कर्मचारियों की सेवा रिकॉर्ड को डिजिटल फॉरमेट में ला दिया है । ऐन्युअल परफोरमेंस रिपोर्ट (एपीएआर) मॉड्यूल ने सभी 12 लाख अराजपत्रित रेल कर्मचारियों की ऐन्युअल परफोरमेंस अप्रैजल लिखने की प्रक्रिया को डिजिटल कर दिया है । कागजी पास का स्थान इलैक्ट्रॉनिक पास मॉड्यूल ने ले लिया है । ऑफिस ऑर्डर मॉड्यूल ऑफिस ऑर्डर जारी करने और नये कर्मचारी के सेवा में शामिल होने, पदोन्नति स्थानांतरण और सेवानिवृत्ति संबंधी डाटा को अद्यतन बनाने का काम करता है ।

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.