खुलासा : पारिवारिक विवाद में भाई और भाभी ने कराई हत्या, 6 आरोपी गिरफ्तार

कोरबा. जिले में हुई हत्या की गुत्थी पुलिस जल्द सुलझा ली। हत्या में शामिल 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर मामले की जाँच रिपोर्ट तैयार कर ली है। अविभाजित मध्यप्रदेश के कद्दावर कॉंग्रेस नेता और पूर्व उप मुख्यमंत्री स्वर्गीय प्यारेलाल कंवर के पुत्र, पुत्र वधु और पौत्री की हत्या पारिवारिक विवाद में कई गई।

पुलिस ने मामले को सुलझा लिया है। हत्या में प्रयुक्त हथियार बरामद कर छह आरोपियों को हिरासत में ले लिया गया है। आरोपियों में मृतक का बड़ा भाई, भाभी, भतीजी, दो करीबी रिश्तेदार और एक अन्य शामिल हैं। मामले का खुलासा करते हुए जिला पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा ने बताया कि इस तिहरे हत्या को तड़के 4.30 बजे अंजाम दिया गया। हत्या दो युवकों ने की। उन्होंने बताया कि जिला के उरगा पुलिस थाना क्षेत्र के भैंसमा गांव में अविभाजित मध्यप्रदेश के वरिष्ठ कॉंग्रेस नेता और पूर्व उप मुख्यमंत्री स्वर्गीय प्यारेलाल कंवर के कनिष्ठ पुत्र हरीश कंवर (40), उनकी पत्नी सुमित्रा (35) और एकमात्र पुत्री आशी (05) वर्ष की आज तड़के निर्मम हत्या कर दी गई। पुलिस की जांच में पता चला कि हरीश कंवर और उसके बड़े भाई हरभजन कंवर में आंतरिक मनमुटाव था।

असल में दोनों भाई एक साथ रहते थे। हरीश कंवर बाहरी कामकाज कर कमाई करता था और संम्पन्न था। जबकि हरभजन आर्थिक दृष्टि से कमजोर था और तंगी अनुभव करता था मगर हरीश उसकी आर्थिक मदद नहीं करता था। उधर हरभजन और हरीश की पत्नी के बीच इसी वजह से विवाद था और बातचीत बन्द थी। हरभजन की पत्नी धनकुंवर ने अपने भाई परमेश्वर कंवर के साथ मिलकर हत्या की साजिश रची।

इसकी जानकारी हरभजन और उसकी नाबालिग पुत्री को भी थी। योजना बनाकर आज सुबह जब हरभजन अपनी पत्नी और दोनों पुत्रियों के साथ मॉर्निंग वॉक पर निकल तो एस एम एस से घर का दरवाजा खुला होने की सूचना आरोपियों को दी गई। इसके बाद हरभजन के साले परमेश्वर कंवर ने अपने दोस्त रामेश्वर मन्नेवार के साथ घर में घुस कर वारदात को अंजाम दिया। पुलिस ने तिहरी हत्या के आरोप में हरभजन कंवर, उसकी पत्नी धन कुंवर, नाबालिग पुत्री, साला परमेश्वर कंवर और रामेश्वर मन्नेवार तथा हत्या की और आरोपियों की जानकारी होने के बाद भी पुलिस को जानकारी नहीं देने के आरोप में हरभजन के एक अन्य साले को गिरफ्तार कर लिया है। हत्या में प्रयुक्त धारदार हथियार और आरोपियों के अधजले खून आलूदा कपड़े जप्त किये गए हैं।

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.