आरोप-प्रत्यारोप छोड़ आपसी सहयोग का रास्ता अपनाए राजनेता : रिजवी

1 min read

File Photo

रायपुर. जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के मीडिया प्रमुख, मध्यप्रदेश पाठ्यपुस्तक निगम के पूर्व अध्यक्ष, पूर्व उपमहापौर तथा वरिष्ठ अधिवक्ता इकबाल अहमद रिजवी ने कहा है कि आज न केवल छत्तीसगढ़ वरन् सम्पूर्ण देश कोरोना के खतरनाक दौर से गुजर रहा है। इस महामारी से कैसे निजात पाऐ यह सोचना छोड़ सभी राजनैतिक दल इसके लिए एक-दूसरे पर लांछन लगाने एवं आरोप-प्रत्यारोप के माध्यम से एक-दूसरे को कोसने एवं जिम्मेदार ठहराने की होड़ में लगे हैं जो सर्वथा उपयुक्त नहीं है। आज ऐतिहासिक संकट की घड़ी से देश जूझ रहा है परन्तु आश्चर्य का विषय है कि सरकारें भीड़भीड़ वाले धार्मिक एवं सार्वजनिक कार्यक्रमों को अनुमति देकर लापरवाही दर्शाते हुए कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ा रहे है। संक्रमितों के साथ-साथ मृतकों की बढ़ती संख्या रूकने का नाम नहीं ले रही है जो शासन-प्रशासन एवं जनता की लापरवाही को दर्शाता है।  रिजवी ने आगे कहा है कि निर्वाचन आयोग आंखे बंद करके बंगाल चुनाव में राजनैतिक दलों को रैली आयोजित करने की अनुमति दे रहा है जो संदेहास्पद तो है साथ ही अमानवीय भी है। उन्होंने आयोग को पत्र लिख कर कहा है कि बंगाल में बेकाबू संक्रमण को रोकने तत्काल भीड़भाड़ वाली सभाओं एवं रैलियों को रोकने आदेश जारी करे। इस दिशा में सुप्रीम कोर्ट को भी स्वस्फूर्त एक्शन लेकर निर्वाचन आयोग को रैलियों पर बैन लगाने कारगर कदम उठाने निर्देशित करें। ।   

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.