PM इमरान खान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार बोले- पाकिस्तान की दुनिया में बनी गलत छवि, भारत से बातचीत को हैं तैयार

1 min read

भारत की कूटनीति के आगे अलग-थलग पड़ा पाकिस्तान अब लगातार शांति की बात कर रहा है. पहले पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा और उसके बाद पीएम इमरान खान ने भारत के साथ शांति की बात दोहराई. अब पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के नेशनल सिक्योरिटी डिविजन के स्पेशल असिस्टेंट मोईद डब्ल्यू. यूसूफ भी कुछ इसी तरह की बात करते हुआ नजर आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि शांति के बिना क्षेत्र में आर्थिक स्थिरता नहीं आ सकती है. भारत ने उनके इस बयान का स्वागत किया है.

यूसूफ ने कहा कि वह दुनिया को यह बताना चाहते हैं कि पाकिस्तान के पीएम का सबसे पहला लक्ष्य क्षेत्र में सभी के साथ शांति बनाना है. उन्होंने कहा कि बिना शांति के आर्थिक सुरक्षा नहीं आ सकती है. उन्होंने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री ने जब ऑफिस संभाला तो उन्होंने यह कहा कि भारत अगर शांति की दिशा में एक कदम बढ़ाता है तो हम दो कदम आगे बढ़ाएंगे.

भारत ने पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के बयान का स्वागत किया है. सरकार के सूत्रों ने बयान को सकारात्मक बताया और कहा कि भारत के प्रधानमंत्री मोदी भी शांति चाहते हैं और कई बार कह चुके कि आर्थिक तंगी से तब हीं निपट सकते हैं जबकि क्षेत्र में शांति बहाल हो. पाकिस्तान ने हाल में आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई भी की है.”

उधर, यूसूफ ने आगे कहा कि पाकिस्तान सेंट्रल एशिया के कनेक्ट करना चाहता है. वह ईस्ट से कनेक्विटी करना चाहता है. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान चाहता है कि सभी देश वहां पर आकर निवेश करें. तुर्की, रूस वहां पर आकर निवेश करना चाहता है. उन्होंने कहा सीमा पर शांति जरूरी है. उन्होंने कहा कि पश्चिम देशों में पाकिस्तान के खिलाफ छवि गलत बनाई गई है. लेकिन जब वे यहां पर आते हैं और इसके बाद जाते हैं तो हकीकत से उनका यहां पर वास्ता होता है.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.