मुल्ला मोहम्मद हसन अखुंद हो सकता है तालिबान की नई सरकार का प्रमुख

1 min read

काबुल. अफगानिस्तान में तालिबान की नई सरकार का प्रमुख मुल्ला मोहम्मद हसन अखुंद हो सकता है. काबुल के मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक़ हिब्तुल्लाह अखुंदजादा ने मुल्ला मोहम्मद हसन अखुंद के नाम का प्रस्ताव दिया है. हसन अखुंद को रईस-ए-जम्हूर या रईस उल वज़ारा का पद मिलेगा. मुल्ला बरादर और मुल्ला अब्दुस सलाम उसके डिप्टी के तौर पर काम करेंगे.

मोहम्मद हसन अखुंद 20 साल से तालिबान के रहबरी शुरा का प्रमुख है. सूत्रों के मुताबिक हक्कानी नेटवर्क का सिराजुद्दीन हक्कानी गृह मंत्री हो सकता है जबकि तालिबान के संस्थापक मुल्ला उमर का बेटा मुल्ला याकूब रक्षा मंत्री हो सकता है. अखुंद वर्तमान में तालिबान के सभी शक्तिशाली निर्णय लेने वाले निकाय रहबारी शूरा का प्रमुख है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक तालिबान के एक नेता ने कहा, ”उन्होंने 20 वर्षों तक रहबारी शूरा के प्रमुख के रूप में काम किया और खुद के लिए अच्छी प्रतिष्ठा कमाई है. वह एक सैन्य पृष्ठभूमि के बजाय एक धार्मिक नेता हैं और अपने चरित्र और भक्ति के लिए जाने जाते हैं.”

रिपोर्टों के अनुसार, कंधार में जन्मे मुल्ला मोहम्मद हसन अखुंद ने अफगानिस्तान में तालिबान के पिछले शासन के दौरान महत्वपूर्ण पदों पर कार्य किया है. वह मुल्ला मोहम्मद रब्बानी अखुंद के नेतृत्व वाली सरकार के दौरान उप प्रधान मंत्री और देश के विदेश मंत्री भी थे. तालिबान प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद को नई सरकार में सूचना मंत्री के बनाना चाहता था लेकिन. अब उसे नई सरकार के संभावित प्रमुख मुल्ला हसन अखुंद के प्रवक्ता के रूप में नियुक्त करने का निर्णय लिया गया है.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.