अगले साल बंद होगा Microsoft का वेब ब्राउजर Internet Explorer, 5 फीसदी लोग भी नहीं करते इस्तेमाल

1 min read

Microsoft ने आखिरकार अपने वेब ब्राउजर Internet Explorer को बंद करने की तारीख का एलान कर दिया है. कंपनी के अनुसार, 15 जून 2022 के बाद उसका ये वेब ब्राउजर बंद हो जाएगा. कंपनी ने अपने अन्य वेब ब्राउजर Microsoft Edge के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के उद्देश्य से ये फैसला लिया है. हालांकि इसका मतलब यह नहीं है कि यूजर्स Internet Explorer का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे. बंद करने से कंपनी का मतलब है कि वो अगले साल से इसके लिए किसी भी तरह का टेक्निकल सपोर्ट और अपडेट नहीं जारी करेगी.

Microsoft Edge के प्रोग्राम मैनेजर सीन लिंडरसेय ने एक बयान जारी करते हुए कहा, “हम इस बात का एलान करते हैं की Microsoft Edge हमारे ऑपरेटिंग सिस्टम Windows 10 में Internet Explorer का भविष्य होगा. Internet Explorer 11 को 15 जून 2022 को बंद कर दिया जाएगा और इसके बाद यूजर्स को कंपनी की ओर से इसके लिए किसी भी तरह का टेक्निकल सपोर्ट और अपडेट नहीं मिलेगा.”

Microsoft ने अपने वेब ब्राउजर Internet Explorer को 16 अगस्त 1995 को रिलीज किया था. लेकिन यूजर्स द्वारा कम इस्तेमाल के चलते अब कंपनी 27 साल बाद इसे बंद करने जा रही है. बता दें कि, ऑपरेटिंग सिस्टम Windows का इस्तेमाल करने वाले सभी लैपटॉप और और डेस्कटॉप में Internet Explorer पहले से ही इन्स्टॉल्ड मिलता है. हालांकि केवल पांच फीसदी लोग ही इसका इस्तेमाल करते हैं. इसके कम इस्तेमाल का एक मुख्य कारण यूजर्स के बीच गूगल क्रोम और मॉजिला फायरफॉक्स जैसे अन्य वेब ब्राउजर की लोकप्रियता है.

इसी प्रतिस्पर्धा को ध्यान में रखते हुए कंपनी ने कुछ समय पहले अपने नए वेब ब्राउजर Microsoft Edge का एलान किया था. इसी साल जनवरी में इसका प्रीव्यू जारी किया है. Microsoft का ये नया वेब ब्राउजर Windows और MacOs सभी को सपोर्ट करता है. कंपनी ने इसकी स्पीड और परफॉर्मेंस को लेकर बड़े-बड़े दावे किए हैं. साथ ही इसमें इनबिल्ट प्राइवेसी और सिक्योरिटी मिलेगी.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.