जानिए, WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी एक्सेप्ट नहीं करने पर यह कैसे डमी ऐप में बदल जाएगा

1 min read

WhatsApp यूजर्स कुछ समय पहले तक 15 मई से अकाउंट बंद होने का भय था लेकिन किसी का भी अकाउंट बंद नहीं हुआ, भले ही उसने नई प्राइवेसी पॉलिसी को एक्सेप्ट नहीं किया हो. कंपनी ने इससे पहले यूजर्स को अल्टीमेटम दिया था कि मैसेजिंग ऐप का इस्तेमाल जारी रखने के लिए यूजर्स को नई प्राइवेसी पॉलिसी को एक्सेप्ट करना होगा. लेकिन अब ऐसा नहीं हो रहा है क्योंकि मैसेजिंग ऐप ने प्राइवेसी पॉलिसी से जुड़े अपडेट की घोषणा की है.

व्हाट्सएप ने 15 मई की डेडलाइन से पहले कहा था कि वह नई प्राइवेसी पॉलिसी को एक्सेप्ट नहीं करने पर भी यूजर्स के अकाउंट को डिलीट नहीं करेगा. लेकिन ऐसा नहीं है कि चीजें इतनी सरल हैं. हालांकि व्हाट्सएप आपका अकाउंट डिलीट नहीं करेगा, लेकिन यह कुछ फंक्शन को सीमित कर देगा. व्हाट्सएप यूजर्स को हफ्तों तक रिमाइंडर भेजता रहेगा लेकिन रिमाइंडर के बावजूद अगर यूजर्स प्राइवेसी पॉलिसी को एक्सेप्ट नहीं करते हैं, तो ऐप पूरी तरह से बेकार हो जाएगा. बिना किसी बेसिक फीचर्स के एक डमी ऐप की तरह हो जाएगा.

व्हाट्सएप यूजर्स रिमाइंडर भेजने के बाद भी पॉलिसी को एक्सेप्ट नहीं नहीं करते हैं तो ऐप शुरुआती समय में इनकमिंग ऑडियो और वीडियो कॉल का जवाब देने देगा लेकिन चैट लिस्ट को का नहीं. आप नोटिफिकेशन इनेबल करके नोटिफिकेशन पैनल से वीडियो कॉल का , जवाब दे पाएंगे. फिर कुछ हफ्तों के बाद इनकमिंग ऑडियो और वीडियो कॉल भी आना बंद हो जाएगी. लेकिन इस लेवल पर पहुंचने से पहले व्हाट्सएप आपको अनगिनत नोटिफिकेशन भेजेगा.

व्हाट्सएप ने एक स्टेटमेंट में द गार्डियन को बताया कि “कुछ हफ्तों की सीमित फंक्शनलिटी के बाद आपको इनकमिंग कॉल या नोटिफिकेशन प्राप्त नहीं मिलेंग और व्हाट्सएप आपके फोन पर मैसेज और कॉल सैड करना बंद कर देगा. उस समय यूजर्स को चुनना होगा कि वे या तो वे नई शर्तों को एक्सेप्ट करें या व्हाट्सएप का इस्तेमाल करने से रोक दिए जाएं ”

रिमाइंडर यूजर्स को पॉलिसी एक्सेप्ट करने के लिए कहता है और यह कभी-कभी पॉप अप होता है. जब भी आप मैसेजिंग ऐप खोलते हैं तो यह आपके डिस्प्ले पर स्थायी रूप से दिखाई देगा. फिक्स्ड रिमाइंडर स्क्रीन से छुटकारा पाने का एकमात्र तरीका मैसेज के नीचे दिए गए “एक्सेप्ट” बटन पर टैप करना है यदि आप प्राइवेसी पॉलिसी नीति को स्वीकार करने के बारे में श्योर नहीं हैं, तो आप किसी दूसरे ऐप पर माइग्रेट कर सकते हैं क्योंकि व्हाट्सएप किसी भी यूजर को पॉलिसी को एक्सेप्ट किए बिना इसका उपयोग नहीं करने देगा.

हालांकि, जिन यूजर्स ने पहले ही पॉलिसी को एक्सेप्ट कर लिया है, उन्हें ऐप में कोई बदलाव नजर नहीं आएगा.वे ऐप का इस्तेमाल पहले की तरह जारी रख सकते हैं .

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.