IPL 2020 में खाली स्टेडियम में भी कैसे गूंज रहा है दर्शकों का शोर? जानें कैसे हो रहा है ये कमाल

1 min read

कोरोनावायरस के कारण इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का आयोजन खाली स्टेडियम में कराया जा रहा है. हालांकि दर्शकों की कमी को पूरा करने के लिए फ्रेंचाइजी टीमों ने पूर्व में रिकॉर्ड किए गए दर्शकों के शोर से माहौल को गुंजायमान रखा है. आपको ये जानकर आश्चर्य होगा कि यूएई में खाली पड़े स्टेडियमों में जो आवाज सुन रहे हैं उसमें मुंबई के ‘साउंड बैंक’ का कमाल है. यूएई से 2000 किमी दूर मुंबई के एक साउंड स्टूडियो से मैच देख रहे लोगों के लिए माहौल बनाया जा रहा है. आईपीएल ब्रॉडकास्टर स्टार इंडिया ने इसके लिए तीन महीने की तैयारी की थी.

इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के अनुसार स्टार इंडिया के खेल प्रमुख संजोग गुप्ता बताते हैं, आईपीएल शुरू होने से पहले साल 2018 से 100 आईपीएल मैचों के साउंड का अध्ययन किया है. हर मुकाबले के लिए अलग-अलग रिसर्च हुए हैं. जैसे अगर चेन्नई और मुंबई के बीच मैच हैं तो उसका डेसीबल लेवल पंजाब और दिल्ली के मैच से बहुत अलग है.

उन्होंने कहा, ‘हमने हर खिलाड़ी और हर टीम के लिए अलग-अलग ध्वनियों को चुना. जब धोनी, रोहित शर्मा या विराट कोहली छक्का मारते हैं, तो एक अनजान या युवा खिलाड़ी की तुलना में चीयर अलग होता है. जब धोनी छक्के जड़ते हैं तो चेपक स्टेडियम से तालियां बजती हैं. एबी डिविलियर्स के लिए चिन्नास्वामी स्टेडियम की आवाज आती है और दिल्ली के कोटला से कप्तान श्रेयस अय्यर के लिए ‘श्रेयस-श्रेयस’ की आवाज गूंजती है. सभी आवाज को स्टूडियो के अंदर डब किया गया है.

संजोग गुप्ता कहते हैं, ‘हमने साउंड बैंक बनाया है. हमने स्टूडियो में फिर से आवाज रिकॉर्ड की है. हम वास्तविक गेम साउंड का उपयोग नहीं कर सकते हैं क्योंकि इसमें बहुत सी चीजें शामिल होती है जैसे आतिशबाजी, चीयरलीडर्स और स्टेडियम में बजने वाले गाने. यहां इस्तेमाल होने वाली आवाज के कई लेयर हैं. स्टेडियम एंबियेंस के अलावा चौके या छक्के के लिए अलग ध्वनियां है.’ जब उनसे पूछा गया कि ये आवाजें कितनी स्वाभाविक है तो उन्होंने कहा कि दुनिया भर से कॉल आ रही है. अन्य लीग के आयोजक भी फोन कर रहे हैं. सभी जानना चाहते हैं कि कैसे बैकग्राउंड स्कोर सही हो.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.