इंडो-अमेरिकी कपल ने की अयोग्य लोगों की मदद, बिहार, झारखंड हेल्थकेयर को दिया 1 करोड़ का दान

1 min read

एक भारतीय-अमेरिकी दंपति ने लाखों लोगों को अच्छी सेहत की उम्मीद दी है. दरअसल रमेश और कल्पना भाटिया नाम के इस कपल ने फैमिली फाउंडेशन के जरिए BJDA को 1 करोड़ रुपये का दान दिया है. ये दान PRAN-BJANA क्लिनिक पहल के जरिए बिहार और झारखंड के ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवा को बेहतर बनाने में मदद करेगा. इसकी जानकारी खुद बिहार झारखंड एसोसिएशन ऑफ नॉर्थ अमेरिका ने दी है.

कल्पना भाटिया पटना की रहने वाली है, लेकिन अब वो टेक्सास में एक सफल व्यवसाय चलाती हैं. इसलिए बिहार और झारखंड के ग्रामीण क्षेत्रों में खराब स्वास्थ्य सेवाओं के चलते उन्होंने ये दान दिया है. जिससे अब दोनों राज्यों की स्वास्थ्य सेवा बेहतर हो सके और ये रुपया बेहतर इलाज और दवाइयों में खर्च किया जा सके. दंपति के दान की वजह से ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को भी शहर जैसा इलाज अब मिल सकेगा और उन्हें इलाज के लिए शहर में भटकना नहीं पड़ेगा.

प्रवासी एलुमनी निःशुल्क क्लिनिक को भारतीय-अमेरिकी चिकित्सकों ने खोला था. ये एक ऐसा क्लिनिक है जहां पर बिहार और झारखंड में रहने वाले वंचितों और अयोग्य लोगों को स्वास्थ्य सेवा मुफ्त में दी जाती हैं. दरअसल इन चिकित्सकों ने रांची में PRAN क्लिनिक को खोला हुआ है. और उनकी कोशिश है कि राज्यों में मुफ्त स्वास्थ्य सेवा प्रदान की जाए.

BJANA के अध्यक्ष अविनाश गुप्ता ने बताया कि रमेश और कल्पना भाटिया की उदारता और 1 करोड़ रुपये के दान की वजह से अब मरीजों को और अच्छा इलाज मिल सकेगा. वहीं एफआईए के पूर्व अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा कि इस तरह के दान से बीजेएएनए को इस क्षेत्र में अपने स्वास्थ्य संबंधी कार्यों को पूरा करने में मदद मिलेगी.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.