Ajay Devgan की गाड़ी रोकने वाले शख्स पर हुआ FIR, जानें क्या है पूरा मामला

1 min read

मुंबई के गोरेगांव फिल्म सिटी के बाहर मंगलवार को अभिनेता अजय देवगन की कार को रोकने के आरोप में पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किया गया युवक अजय देवगन की कार के आगे खड़ा हो गया और हंगामा करने लगा था. आरोप है कि उसने अजय देवगन की कार रोककर उनसे कहा- आप किसान आंदोलन में पंजाब के खिलाफ हो, शर्म करो.

इस वजह से अजय देवगन आगे नहीं जा पाए थे. ये घटना सुबह तकरीबन 9 बजे की है. बाद में एक्टर के बॉडीगार्ड ने पुलिस को मामले की सूचना दी. जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया.

अजय देवगन की गाड़ी रोकने वाले राजदीप के खिलाफ पुलिस ने IPC की धारा 341, 504, 506 के तहत शिकायत दर्ज कर ली है. पुलिस राजदीप के बैकग्राउंड की जांच कर रही है. गौरतलब है कि अजय देवगन की गाड़ी रोकने वाला राजदीप सिंह धालीवाल पंजाब का बताया जा रहा है. रिपोर्ट के मुताबिक वह नेशनल कांग्रेस पार्टी के लिए काम करता है.

ये है मामला

जानकारी के मुताबिक अभिनेता अजय देवगन अपनी एक फिल्म की शूटिंग के लिए गोरेगांव पूर्व में स्थित फिल्म सिटी में जा रहे थे. उसी दौरान फिल्म सिटी के गेट से थोड़ी ही दूर पहले राजदीप नाम के एक शख्स ने उनकी गाड़ी को रोक दिया हंगामा करने लगा. वह, अजय देवगन से कहने लगा कि दिल्ली में किसान इतने दिनों से आंदोलन कर रहे हैं, प्रदर्शन कर रहे हैं लेकिन आप उनके समर्थन में कोई ट्वीट क्यों नहीं कर रहे हैं? उसने पंजाबी में ये भी कहा कि तुम लोग पंजाब के खिलाफ हो, शर्म करो.

लगभग 15 मिनट तक अजय देवगन की गाड़ी सड़क पर ही खड़ी रही. सूचना मिलने पर घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने अजय देवगन की गाड़ी को रेस्क्यू कर फिल्म सिटी के अंदर उनके सेट पर जाकर छोड़ा. दिंडोशी पुलिस ने अजय देवगन की गाड़ी रोकने वाले राजदीप को गिरफ्तार कर लिया है.

वहीं गाड़ी रोकने वाले राजदीप नाम के युवक के एक दोस्त ने बताया कि वह सिर्फ किसानों की हक के लिए अजय देवगन से बात करने गया था. उसने कोई बहुत बड़ा गुनाह तो नहीं है फिर पुलिस ने उसे क्यों गिरफ्तार किया यह समझ में नहीं आ रहा है. राजदीप के साथी ने उसकी रिहाई की मांग करते हुआ कहा कि राजदीप बय ये चाहते हैं कि अजय देवगन किसानों के लिए आवाज बुलंद करें. ये कोई क्राइम नहीं है लेकिन पुलिस राजदीप का पक्ष नहीं समझ रही है. इस देश में अपनी भावनाएं जाहिर करने की आजादी नहीं है. पुलिस राजदीप को गिरफ्तार नहीं कर सकती है. हम राजदीप की तुरंत रिहाई की मांग करते हैं.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.