Corona New Strain: इंग्लैंड और स्कॉटलैंड में लगा ‘मार्च’ जैसा Lockdown, घरों से बाहर निकलने पर रहेगी पाबंदी

1 min read

लंदन. कोरोना (Coronavirus) का नया स्ट्रेन मिलने के बाद संक्रमण की रफ्तार में आई तेजी के मद्देनजर ब्रिटेन ने पूरे इंग्लैंड में लॉकडाउन (Lockdown) लगा दिया है. प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) ने लॉकडाउन का ऐलान करते हुए कहा कि हमने कोरोना के खिलाफ जंग में कम से कम फरवरी के मध्य तक नया स्टे-ऑन-होम लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है, ताकि कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन को ज्यादा फैलने से रोका जा सके. सोमवार को अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के तहत सभी स्कूल भी बंद रखे जाएंगे.

स्कूल-कॉलेज चलेंगे ऑनलाइन
प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) ने कहा कि लोगों को एक बार फिर से घर पर रहना होगा. पिछले साल मार्च में महामारी की पहली लहर के वक्त लॉकडाउन संबंधी जो आदेश दिए गए थे, वैसा ही इस बार किया जा रहा है. क्योंकि इस समय कोरोना का नया स्ट्रेन काफी खतरनाक तरीके से फैल रहा है. हमारे अस्पताल कोरोना के नए वायरस की वजह से बहुत अधिक दबाव में हैं और महामारी के बाद ऐसा पहली बार है. उन्होंने बताया कि स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी बंद रहेंगे और ये सभी ऑनलाइन ही चलेंगे. सिर्फ आवश्यक वस्तुओं के लिए ही लोग घरों से बाहर जा सकेंगे.

‘हमें राष्ट्रीय लॉकडाउन की जरूरत’
जॉनसन ने कहा कि जिस तरह नए संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं, यह स्पष्ट हो गया है कि हमें और मेहनत करने की जरूरत है. इंग्लैंड में हमें एक राष्ट्रीय लॉकडाउन की जरूरत है क्योंकि कोरोना के नए स्ट्रेन के खिलाफ यह कठोर कदम पर्याप्त है. इसका मतलब है कि सरकार एक बार फिर से आपको घर में रहने के लिए निर्देश दे रही है. गौरतलब है कि ब्रिटेन में कोरोना का नया स्ट्रेन मिलने के बाद संक्रमण के मामलों में तेजी आई है. ये नया स्ट्रेन ब्रिटेन से निकलकर कई अन्य देशों में भी फैल गया है.

स्कॉटलैंड ने भी लगाया Lockdown
वहीं, स्कॉटलैंड (Scotland) ने भी फिर से लॉकडाउन लगा दिया है. सरकार ने लॉकडाउन की घोषणा करते हुए कहा है कि मंगलवार से जनवरी के अंत तक लॉकडाउन जारी रहेगा. ये लॉकडाउन बिल्कुल वैसा ही होगा जैसा पिछले साल मार्च में लगाया गया था. यानी लोगों को बाहर निकलने की अनुमति नहो होगी. फर्स्ट मिनिस्टर निकोला स्टर्जन ने लॉकडाउन की घोषणा करते हुए कहा कि सभी स्कूल एक फरवरी तक बंद रहेंगे. उन्होंने बताया कि मंगलवार रात से जनवरी के अंत तक लॉकडाउन लागू रहेगा. इस दौरान अत्यावश्यक सेवाओं को छोड़कर सबकुछ बंद रहेगा और किसी को बेवजह घर से बाहर निकलने की आजादी नहीं होगी. ये लॉकडाउन ठीक वैसा ही होगा, जैसा पिछले साल मार्च में लगाया गया था.

लगातार बढ़ रहे मामले
स्कॉटलैंड में पिछले 24 घंटों में COVID-19 के 1,905 नए मामले रिकॉर्ड किए गए हैं. इसी के साथ कुल मामलों की संख्या बढ़कर 136,498 हो गई है. इसके अलावा, मरने वालों की संख्या में भी इजाफा हुआ है. इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार ने सख्त लॉकडाउन का ऐलान किया है. सरकार की तरफ से कहा गया है कि जनवरी के अंत में स्थिति का आकलन करने के बाद लॉकडाउन आगे बढ़ाने का फैसला लिया जाएगा. वैसे जितनी तेजी से केस सामने आ रहे हैं, उसे देखते हुए माना जा रहा है कि लॉकडाउन बढ़ेगा.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.