ब्रिटेन ने कोविशील्ड के दोनों डोज के गैप को कम किया, 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए नियम

1 min read

लंदन. कोरोना वायरस से लड़ने के लिए ब्रिटेन तेजी से टीकाकरण कर रहा है. ब्रिटेन ने अब कोविशील्ड की दोनों डोज देने के बीच के समय को कम किया है. अब दोनों डोज के बीच का गैप 8 हफ्ते का किया गया है. हालांकि यह नियम 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए ही लागू किया गया है. इसके साथ ही गंभीर रूप से बीमार लोगों को भी 8 हफ्ते में ही दोनों डोज लगाई जाएंगी. ब्रिटेन में पहले इनके लिए दोनों डोज के बीच के समय 12 हफ्ते का था.

प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने शुक्रवार को कहा कि 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों और बीमारी के वायरस से बचाने लिए वैक्सीन की दूसरी डोज जल्दी दी जाएगी. जॉनसन ने यह भी कहा कि भारत में डोमिनेट कोरोना वायरस वेरिएंट के केस ब्रिटेन में बढ़ने से रीओपनिंग प्लान डिस्टर्ब हो सकता है. इंग्लैंड अपनी योजना के अनुसार सोमवार को रीओपनिंग के लिए अगला कदम उठाएगा लेकिन वर्तमान में बढ़ते मामलों से 21 जून के लिए तय लास्ट स्टेज को लेकर डाउट हो सकता है. जॉनसन ने कहा कि “मुझे नहीं लगता कि हमें अपने रोडमैप में देरी करने की जरूरत है. “

जॉनसन ने कहा “यह नया वेरिएंट हमारी प्रोग्रेस में लिए एक सीरियस बाधा पैदा कर सकता है. लोगो को सुरक्षित रखने के लिए जो कुछ भी होगा, हम करेंगे.” स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि B1.617.2 वैरिएंट उत्तर पश्चिमी इंग्लैंड में तेजी से फैलने लगा है और लंदन में कुछ हद तक इसके प्रसार को रोकने और नियंत्रित करने के लिए निर्णायक कार्रवाई की जा रही है. इसे देखते हुए 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को दूसरी डोज जल्दी दी जाएगी. अधिकारियों ने के अनुसार पिछले सप्ताह इस वेरिएंट के मामले 520 थे जो इस सप्ताह बढ़कर 1,313 हो गए.

जॉनसन ने कहा कि सरकार उन आंकड़ों का इंतजार कर रही है जो यह संकेत देंगे कि क्या नया वेरिएंट दूसरे वेरिएंट के मुकाबले ज्यादा ट्रांमिशिसेबल है. इसे बाद ही सरकार अगला कदम उठाएगी. मुख्य चिकित्सा अधिकारी क्रिस व्हिट्टी ने खुलासा किया कि वैज्ञानिकों का मानना है कि यह अधिक ट्रांमिशिसेबल है, लेकिन यह कितना ज्यादा है, यह निश्चित नहीं है.

जॉनसन ने कहा कि एक सफल वैक्सीन अभियान की बदौलत ब्रिटेन ने पिछले कुछ महीनों में मामलों को कम किया है और अधिकारियों को विश्वास है कि वैक्सीन इस वेरिएंट के खिलाफ प्रभावी होगी. उन्होंने कहा कि, हमें अपने टीकों पर भरोसा करना चाहिए और स्थिति की बारीकी से निगरानी की जा रही है. कोरोना वायरस के कारण महीनों तक लगे प्रतिबंधों के बाद ब्रिटेन धीरे-धीरे अपनी अर्थव्यवस्था को रीओपन कर रहा है. सोमवार को पब और रेस्तरां सहित कई चीजें इंग्लैंड में फिर से शुरू होंगी.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.