ममता बनर्जी चोट मामले में BJP ने पूछा- CM के इलाज के दौरान क्या सभी SOP का पालन हुआ

नई दिल्ली. पश्चिम बंगाल बीजेपी ने चुनाव आयोग को खत लिखकर सवाल किया है कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के इलाज के दौरान क्या सभी एसओपी का पालन किया गया था. पत्र में ये भी मांग की गई है कि सीएम के चोट से जुड़ी सभी जानकारी को साझा किया जाना चाहिए.

बीजेपी ने चुनाव आयोग को ख़त लिख कर कहा है कि ममता बनर्जी 10 मार्च को लगी चोट का राजनीतिक फ़ायदा उठाना चाहती हैं, जबकि उन्हें अगर उतनी गंभीर चोट लगी है तो एसएसकेएम हॉस्पिटल में इलाज से जुड़े सभी काग़ज़ात सार्वजनिक किए जाने चाहिए. बीजेपी ने ख़त लिखा कर कहा है कि ममता बनर्जी ने चोट के लिए बीजेपी कार्यकर्ताओं को ज़िम्मेदार ठहराया है, जबकि इसका कोई सबूत नहीं है.

साथ ही ममता बनर्जी को चोट लगी तो उन्हें एम्बुलेंस में ले जाने के बजाय कार में ले जाया गया. वो भी नंदीग्राम से 120 किलोमीटर दूर कोलकाता के एसएसकेएम हॉस्पिटल ले जाया गया, जबकि नंदीग्राम में सुपर स्पेसिएलिटी हॉस्पिटल भी है.

कोलकाता के एसएसकेएम हॉस्पिटल ने आज तक मुख्यमंत्री का पूरा हेल्थ बुलेटिन नहीं जारी किया, उससे सवाल उठता है कि ममता बनर्जी को लगी चोट की प्रकृति कैसी थी. बीजेपी ने एसएसकेएम हॉस्पिटल के निदेशक को भी सीधे ख़त लिख कर ममता बनर्जी की इलाज से जुड़े विवरण सार्वजनिक करने की मांग की है.

आपको बता दें कि ममता बनर्जी ने आज से व्हीलचेयर पर बैठकर प्रचार करना शुरू किया है. बीजेपी सूत्रों के मुताबिक़ ममता बनर्जी चोट का बहाना कर सहानुभूति और राजनीतिक फ़ायदा उठाना चाहती हैं.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.