छत्तीसगढ़ी गाना ‘दबा बल्लू’ पर लगा प्रतिबंध, गाने और बजाने पर लग सकता है इतने हजार का जुर्माना

1 min read

File Photo

रायपुर. छत्तीसगढ़ी गाना ‘दबा बल्लू’ इन दिनों यूट्यूब पर काफी पसंद किया जा रहा है, लेकिन इसके दोअर्थी बोल के चलते इसका चौतरफा विरोध शुरू हो गया है। यहां तक कि गांव-गांव में सरपंच और पंचायत सचिव आदेश जारी कर इस गाने के बजाने या फिर इसके संवाद बोलने पर प्रतिबंध लगा रहे हैं। बीते दिनों धरसींवा के कांदुल गांव में भी इसी तरह का फरमान जारी किया गया। गांव के सरपंच और पंचायत सचिव ने मिलकर आदेश जारी किया कि मड़ई मेला में किसी तरह की मारपीट, लड़ाई या दबा बल्लू जैसे संवाद बोलने पर 5,551 रुपये का जुर्माना वसूला जाएगा।

बताया जाता है कि इसी तरह पलारी, बालोद, बेमेतरा के ग्रामीण इलाकों में भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। ग्राम पंचायत की ओर से इस गाने को बजाने या गाने पर 5 हजार का जुर्माना लगाया है। हालांकि इस तरह का जुर्माना लगाना कितना जायज है, यह बहस का विषय हो सकता है, लेकिन शायद पहली बार है जब छत्तीसगढ़ में किसी गाने को अश्लीलता का पर्याय मान कर उसके खिलाफ प्रतिबंध लगाया जा रहा है।

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.