AUS vs IND : गौतम गंभीर ने कहा- भारत को याद रखना होगा कि एडिलेड टेस्ट के पहले दो सेशन में वह हावी था

नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर का कहना है कि भारत की एडिलेड में अपमानजनक हार लोगों को हर्ट कर रही होगी लेकिन दर्शकों को यह याद रखना होगा कि बॉक्सिंग डे टेस्ट के शुरुआती दो सेशन में भारत ने अपना दबदबा बनाया था. पहले दोनों दिन वे खेल में आगे थे.

भारत ने इस मैच में दूसरे दिन का खेल समाप्त होने के बाद पहली पारी में 53 रन की बढ़त ली थी और तीसरे दिन अबतक का सबसे कम 36 रन का स्कोर बनाने के बाद आखिरकार आठ विकेट से मैच गंवा दिया था. गंभीर ने स्टार स्पोर्ट्स से बातचीत में कहा कि उन्हें यह याद रखने की जरूरत है कि वे पहले दो दिनों में हावी थे और पहले दोनों दिन वे खेल में आगे थे. गंभीर ने आगे कहा कि “वे एक सेशन में हर्ट हो जाएंगे लेकिन फिर उन्हें यह याद रखना होगा कि तीन टेस्ट मैच हैं और साथ ही यह भी याद रखना होगा कि उनके साथ सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी और कप्तान विराट कोहली भी नहीं हैं”

अजिंक्य रहाणे पर खुद को साबित करने दबाव
भारतीय टीम शनिवार से शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट में अपने करिश्माई कप्तान विराट कोहली के बिना ही खेलेगी जो पितृत्व अवकाश पर हैं. वहीं, प्रीमियर पेसर मोहम्मद शमी हाथ में फ्रैक्चर के कारण सीरीज से बाहर हो चुके हैं.गंभीर ने कहा, ‘इसलिए अजिंक्य रहाणे पर खुद को साबित करने बहुत ज्यादा भार है .इसके अलावा मोहम्मद शमी भी नहीं होंगे. इससे इस बात का भी दबाव रहेगा कि वे किस कॉम्बिनेशन के साथ खेलते हैं”

इससे पहले गंभीर ने कहा था कि भारत पांच गेंदबाजों के साथ दूसरा टेस्ट खेलना चाहिए और रहाणे को नंबर 4 पर बल्लेबाजी करने के लिए उतारना अच्छा रहेगा. उन्होंने केएल राहुल, ऋषभ पंत और शुभमन गिल को प्लेइंग इलेवन में शामिल करने की वकालत की थी.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.