भगवान राम के बाद मां दुर्गा पर सियासी लड़ाई, अभिषेक बनर्जी के आरोप का दिलीप घोष ने दिया जवाब

कोलकाता. चुनावी राज्य पश्चिम बंगाल में सियासी लड़ाई भगवान राम के बाद अब देवी दुर्गा पर आ गई है. इस लड़ाई में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी और बंगाल बीजेपी के अध्यक्ष दिलीप घोष आमने सामने आ गए हैं.

टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी ने दिलीप घोष पर आरोप लगाया कि उन्होंने मां दुर्गा का अपमान किया. साउथ 24 परगना में एक रैली को संबोधित करते हुए अभिषेक बनर्जी ने कहा कि बीजेपी के लोग महिलाओं का सम्मान नहीं करते. इसका जवाब देते हुए दिलीप घोष ने कहा कि टीएमसी मां दुर्गा के नाम पर सियासत कर रही है.

अभिषेक बनर्जी ने कहा, “ये लोग मां दुर्गा का अनादर करते हैं. मां लक्ष्मी, मां सरस्वती का अनादर करते हैं. बता देना चाहता हूं कि वोट से आगे भी बहुत कुछ है. अमित शाह कहते हैं कि ममता दीदी को जय श्री राम बोलना होगा. आपको बता दूं कि दीदी जय सियाराम बोलती हैं. महिलाओं का सम्मान करना होगा. झुककर महिलाओं का सम्मान करना होगा. बंगाल में ये सब सीखना होगा. नहीं तो बांग्ला संस्कृति सब कुछ सीखा देगी.”

इस पर जवाब देते हुए दिलीप घोष ने कहा, “तृणमूल के लोग न दुर्गा को जानते हैं, न राम को जानते हैं. दुर्गा हमारी देवी हैं. इसलिए उनको हम राजनीति में नहीं लाते हैं. राम हमारे राजा थे, क्षत्रिय थे…टीएमसी धर्म को राजनीति में और राजनीति को धर्म में लाती है.”

कुल मिलाकर राज्य में टीएमसी और बीजेपी के बीच जुबानी जंग तेज है. कोई भी एक दूसरे पर निशाना साधने का कोई मौका नहीं चूक रहे हैं. टीएमसी की तरफ से दावा किया जा रहा है कि राज्य में एक बार फिर उनकी सरकार बनेगी. वहीं बीजेपी की मानना है कि इस बार टीएमसी को सत्ता से हटाने का मन बंगाल की जनता ने बना लिया है. राज्य में विधासनभा की कुल 294 सीटें हैं. इस साल के मध्य में वहां चुनाव होने हैं.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.