सांसद अरुण साव के प्रयासों से जिले के 18 सौ दिव्यांगों को आज मिलेंगे 2 करोड़ के सहायक उपकरण

बिलासपुर. लंबे अर्से से सहायक उपकरणों की बाट जोह रहे जिले के करीब 18 सौ दिव्यांगों एवं वरिष्ठ नागरिकों को गुरुवार को दो करोड़ चार लाख रुपये की लागत से 3380 सहायक उपकरणों का वितरण किया जायेगा। सांसद अरुण साव के प्रयासों से केन्द्र की सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय, दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग की एडिप व राष्ट्रीय वयोश्री योजना के तहत उन्हें करीब दो करोड़ 4 लाख रुपए की लागत के कुल 3380 सहायक उपकरणों का वितरण किया जाएगा। इसके लिए 17 दिसम्बर को दोपहर एक बजे स्थानीय जलसंसाधन परिसर स्थित प्रार्थना भवन में कार्यक्रम होगा।

समाज कल्याण विभाग ने एडिप योजना के तहत जिले के 1162 दिव्यांगजनों तथा राष्ट्रीय वयोश्री योजना के तहत 623 वरिष्ठ नागरिकों का चयन किया गया था। तत्कालीन कलेक्टर एवं वर्तमान कमिश्नर डॉ. संजय अलंग ने उक्त संबंध में सांसद साव को जानकारी दी। संसद के मानसून सत्र के दौरान ही साव ने केन्द्रीय मंत्री गहलोत से भेंट कर जिले के चयनित दिव्यांगजनों एवं वरिष्ठ नागरिकों को तत्काल सहायक उपकरण उपलब्ध कराने अनुरोध किया। कार्यक्रम में केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. गहलोत वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से दिल्ली से जुड़ेंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता सांसद साव करेंगे। विशिष्ट अतिथि नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, विधायक शैलेश पाण्डेय, रश्मि आशीष सिंह, डॉ. कृष्णमूर्ति बांधी, रजनीश सिंह, डॉ. रेणु जोगी, महापौर रामशरण यादव तथा जिला पंचायत अध्यक्ष अरुण सिंह चौहान होंगे।

इन उपकरणों का होगा वितरण : कार्यक्रम में सांकेतिक तौर पर हितग्राहियों को 10 मोटराईज्ड ट्रायसायकल, 5 ट्रायसायकल, 2 व्हीलचेयर, 3 बैशाखी, 4 श्रवणयंत्र, 2 स्मार्ट फोन, 2 ब्रेल किट, 2 एमआर किट, 2 डीजी प्लेयर, 2 वाकिंग स्टीक, 2 चश्मा का वितरण किया जाएगा, जिसकी कीमत कुल 5 लाख 842 रुपए है। शेष हितग्राहियों को सहायक उपकरणों का वितरण ब्लाक मुख्यालयों में कार्यक्रम रखकर किया जाएगा।

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.