सरकार ने साबित कर दिया है कि वह धान की खरीदी और 2500 रुपये देने में आनाकानी करेगी : डॉ. रेणु जोगी

1 min read

बिलासपुर. जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) ने यहां ‘धान सत्याग्रह’ बैठक की। लोकसभा स्तरीय इस बैठक में किसानों का एक-एक दाना खरीदने, 2500 रुपये का एकमुश्त भुगतान करने तथा बारदाना कम होने का नाम लेकर अव्यवस्था न हो इस पर निगरानी रखने के लिये समितियां बनाई गई। बैठक में विधायक डॉ. रेणु जोगी, धर्मजीत सिंह ठाकुर, अमित जोगी व अनेक नेता, कार्यकर्ता शामिल हुए।

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष पूर्व विधायक अमित जोगी ने बैठक में कहा कि किसानों को त्यौहार व शादियों के वक्त धान का उचित मूल्य दिलाने के लिये स्व. अजीत जोगी ने धान खरीदी शुरू की थी, इसके विपरीत भूपेश सरकार किसानों को ठग रही है। धान खरीदी की शुरूआत एक माह बढ़ा दी गई है। पिछली बार के 2500 रुपये की एक किश्त अब भी बाकी है। कोरोना काल में यह किसानों के लिये आफत है। मशीन, कांटा खराब होने, बारदाना नहीं होने और टोकन सिस्टम लागू कर किसानों को पिछले साल परेशान किया गया। इनसे किसानों को बचाने के लिये निगरानी समिति बनाई जा रही है। इस वक्त किसान की जरूरत एक हाथ धान लो, एक हाथ पैसा दो, है।

पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष कोटा विधायक डॉ. रेणु जोगी ने कहा सरकार ने साबित कर दिया है कि वह धान की खरीदी और 2500 रुपये देने में आनाकानी करेगी। जोगी कांग्रेस किसानों के हक के लिये उनके साथ खड़ी रहेगी। विधायक दल के नेता धर्मजीत सिंह ठाकुर ने कहा कि किसानों को हो रही असुविधा की ओर सरकार का ध्यान आकृष्ट कराने के लिये सभी कलेक्टरों को ज्ञापन दिया जायेगा। सिंह ने कार्यकर्ताओं को गांवों का दौरा करने और किसानों की तकलीफों को जानने का निर्देश दिया।

पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता विक्रांत तिवारी ने बताया कि मरवाही सदन में हुई इस बैठक में सर्वसम्मति से पांच प्रस्ताव पारित किये गये जिनमें ब्लॉक वार निगरानी समिति बनाना, कलेक्टरों को किसानों की समस्याओं पर ज्ञापन देना, सभी 2205 खरीदी केन्द्रों में दौरा करना, बड़े धान केन्द्रों में पार्टी के चिन्ह के साथ हेल्प डेस्क बनाना व सभी ब्लॉक में किसान सभा लेना तय किया गया है। बैठक में बिलासपुर, बिल्हा, बेलतरा, मस्तूरी, तखतपुर, मुंगेली, पथरिया, लोरमी आदि क्षेत्रों से आये कार्यकर्ताओं व नेताओं ने भाग लिया।

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.