वेस्ट वियर के निर्माण से 105 किसानों को मिल रही है सिंचाई की सुविधा

बिलासपुर. नरवा विकास कार्यक्रम छत्तीसगढ़ शासन की एक महती योजना है। प्रदेश सरकार की नरवा विकास परियोजना का कार्य जिले में तेजी से हो रहा है। इस परियोजना से जिले के किसानों के जीवन में अब बदलाव आने लगा है। किसानों को सिंचाई सुविधा मिलने के साथ ही उनके जीवन स्तर में भी सुधार आ रहा है।


विकासखंड मस्तूरी के ग्राम पंचायत केंवटाडीह के ग्राम गिनौरीडीह में भी किसानों को अब बरसात के पानी पर निर्भर रहने की आवश्यकता नहीं है। यहाँ मनरेगा से 18.59 लाख की लागत से सुरखी नाला पर जल संरक्षण के लिए वेस्ट वियर का निर्माण किया गया है। इसके निर्माण से 105 किसानों को सिंचाई सुविधा मिल रही है एवं 210 एकड़ कृषि भूमि सिंचित हो रहा है। अब किसान दोहरी फसल भी लेने लगे है। दोहरी फसल लेने से उनकी आवक भी बढ़ गई हैै। किसानों को पेयजल, सिंचाई सहित निस्तारी कार्य के लिए वर्ष भर जल की उपलब्धता बनी रहती है। स्थानीय किसानों ने इस वेस्ट वियर लाभ के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि जल के भराव बने रहने से ग्रामीणों को सिंचाई के लिए हमेशा जल की उपलब्धता बनी रहती है। इससे फसल की पैदावार भी अच्छी होती है। किसानो ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा किसानों के हित में अनेक फैसले लिये जा रहे हैं। हमारे ग्राम पंचायत में जल संरक्षण के लिए किये गये इस उपाय से हमें किसानी कार्य में बहुत मदद मिली है।

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.