राहत की खबर : कोरोना के एक्टिव केस में आई कमी, अस्पतालों में 22 हजार बिस्तर खाली

1 min read

File Photo

रायपुर. छत्तीसगढ़ के लिए कोरोना के लिहाज से थोड़ी राहत की खबर यह है कि यहां एक्टिव मरीजों की दर घटकर 8.9 प्रतिशत पर आ गई है। सितंबर-अक्टूबर में यह दर 12 प्रतिशत थी, यानी इतने प्रतिशत कोरोना मरीज एक समय में अस्पतालों-कोविड सेंटरों या होम आइसोलेशन में थे। अब प्रति सौ पुष्ट कोरोना केसों में से केवल नौ लोग ही संक्रमित हैं। इसलिए अस्पताल फिर खाली होने लगे हैं। भास्कर को मिली जानकारी के मुताबिक प्रदेश के 28 जिलों में विभिन्न कोरोना अस्पतालों और केयर सेंटर में 22 हजार बिस्तर खाली हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक अस्पतालों में एचडीयू श्रेणी के करीब साढ़े पांच सौ, आईसीयू के सात सौ से ज्यादा और वेंटिलेटर की सुविधा वाले 400 से अधिक बिस्तर खाली है। इसके साथ साथ सर्दियों के मौसम में भी घरों में आइसोलेशन के जरिए इलाज का मॉडल भी बेहतर साबित हो रहा है। दिवाली के बाद रोजाना करीब एक हजार लोगो के डिस्चार्ज में नब्बे प्रतिशत तक मरीज घर में ही इलाज से स्वस्थ हो जा रहे हैं। प्रदेश में रिकवरी रेट में बीते दो हफ्ते सुधार दर्ज हुआ है। इसके चलते अब 90 प्रतिशत की रिकवरी दर के पार हो गया है। छत्तीसगढ़ में अब ठीक होने वाले मरीजों की दर 90.5 प्रतिशत पर पहुंच गई है।

रायपुर में अब भी 7 हजार : जानकारों के मुताबिक रायपुर में दिवाली के त्योहारी सीजन के पहले प्रतिदिन 139 की औसत से नए संक्रमित सामने आ रहे थे। दिवाली के बाद से इस ट्रेंड में अब बदलाव हो चुका है। रायपुर में औसतन दो सौ मरीज रोजाना मिल रहे हैं। इसके चलते प्रदेश के अन्य 27 जिलों की तुलना में एक्टिव मरीजों की तादाद बहुत ज्यादा हो रही है। रायपुर में हर दिन औसतन सौ मरीजों के डिस्चार्ज होने के बावजूद सात हजार से अधिक एक्टिव केस बने हुए हैं।

फिर भी सावधानी जरूरी
दिसंबर में सर्दी बढ़ने के साथ सभी जगह कोरोना केस बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। जानकारों के मुताबिक एक्टिव केस की दर 8.9 प्रतिशत पर आने के चलते अभी खतरा टला नहीं माना जा सकता है। अब भी लोगो को उसी तरह सावधानी बरतनी चाहिए। नवंबर दिसंबर में ज्यादा मरीजों को ऑक्सीजन सपोर्ट में रखने की आशंका जताई गई थी। राहत की बात ये भी है कि नवंबर बीत रहा है, ऑक्सीजन सपोर्ट की जरूरत बहुत ज्यादा नहीं पड़ी है। लिहाजा हेल्थ विभाग अब दिसंबर के पहले दो हफ्तों की स्थितियों के असेसमेंट पर फोकस कर रहा है।

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.