युजवेंद्र चहल कनकशन विवाद पर सामने आए, बताया क्यों नहीं है कोई दबाव

1 min read

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टी20 मुकाबले में चहल को कनकशन के तौर पर इस्तेमाल करने की वजह से टीम इंडिया विवादों के घेरे में हैं. चहल ने हालांकि साफ किया है कि वह किसी भी तरह का दबाव महसूस नहीं कर रहे हैं. जडेजा के कनकशन के तौर पर मैदान में उतरकर चहल ने कमाल का प्रदर्शन करते हुए 4 ओवर में 25 रन देकर तीन अहम विकेट लिए और मैन ऑफ द मैच का खिताब हासिल किया.

चहल को मैच की शुरुआत में प्लेइंग इलेवन का हिस्सा नहीं बनाया गया था. चहल ने कहा, ”जब हम बल्लेबाजी कर रहे थे तो मुझ पर कोई दबाव नहीं था और फिर अचानक से मुझे पता चला कि मैं खेलने वाला हूं. मैंने काफी सारे मैच खेले हैं तो मैं मानसिक रूप से फिट था.”

चहल ने कहा कि वनडे श्रृंखला में उन्होंने प्रतिद्वंद्वी टीम के लेग स्पिनर एडम जाम्पा से कुछ चीजें सीखीं और इससे आस्ट्रेलियाई विकेट पर अच्छी गेंदबाजी करने में मदद मिली. उन्होंने कहा, ”मैंने अपनी वनडे की गलतियों से सीख ली. वनडे में मैंने गेंद को काफी फ्लाइट किया था लेकिन यहां मैंने जाम्पा को गेंदबाजी करते हुए देखा, मैंने भी ऐसा ही करने की कोशिश की.”

चहल ने पहली पारी में बल्लेबाजी करने को मुश्किल बताया. स्टार खिलाड़ी ने कहा, ”पहली पारी में रन बनाना थोड़ा मुश्किल था. इस विकेट पर 150-160 रन का स्कोर भी अच्छा है. मैंने अपनी योजना के अनुसार गेंदबाजी की.”

बता दें कि भारतीय पारी के आखिरी ओवर में बल्लेबाजी करते हुए रवींद्र जडेजा के हेलमेट पर गेंद लग गई थी. इनिंग ब्रेक के दौरान टीम इंडिया ने रेफरी से जडेजा का कनकशन इस्तेमाल करने की मांग की. रेफरी ने इस मांग को स्वीकार कर लिया और चहल को जडेजा के स्थान पर मैच के बीच में ही खेलने का मौका मिला.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.