मुख्यमंत्री ने राज्य पुलिस अकादमी का नामकरण देश के महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी नेताजी सुभाषचंद्र बोस के नाम पर करने की घोषणा की

रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज नेताजी सुभाषचन्द्र बोस की 125वीं जयंती के अवसर पर मुख्यमंत्री निवास कार्यालय में आयोजित समारोह में चंदखुरी स्थित राज्य पुलिस प्रशिक्षण अकादमी का नामकरण देश के महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी नेताजी सुभाषचंद्र बोस के नाम पर करने की घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज नेताजी सुभाषचंद्र बोस की जयंती की 124वीं वर्षगांठ के मौके पर पूरा देश उन्हें याद कर नमन कर रहा है। उनकी 125वीं जयंती पर पूरे साल हम उनका स्मरण करेंगे। नेताजी सुभाषचंद्र बोस ने देश की आजादी के लिए सशस्त्र संघर्ष का रास्ता अपनाया। दुनिया का भ्रमण कर आजाद हिंद फौज की स्थापना की। वे युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत हैं। उनके स्मरण से ही जोश का संचार हो जाता है। उन्होंने कहा कि पुलिस अकादमी में प्रशिक्षण लेने वाले पुलिस अधिकारी उनसे प्रेरणा लेकर उनके आदर्शो पर चलने के लिए प्रेरित होंगे।

पुलिस महानिदेशक डी.एम.अवस्थी ने कहा कि राज्य पुलिस अकादमी के मुख्य द्वारा पर नेताजी सुभाषचंद्र बोस की आदमकद प्रतिमा की स्थापना की जाएगी। इस अवसर पर पुलिस अकादमी के प्रशिक्षु अधिकारी भी कार्यक्रम से ऑनलाइन जुड़े। कार्यक्रम की अध्यक्षता योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी मंत्री अमरजीत भगत ने की। मुख्यमंत्री के सलाहकार सर्वश्री प्रदीप शर्मा, विनोद वर्मा, रुचिर गर्ग और राजेश तिवारी, राज्य योजना आयोग के उपाध्यक्ष अजय सिंह, कृषि उत्पादन आयुक्त एवं सचिव डॉ. एम.गीता, इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. एस. के.पाटिल भी उपस्थित थे।

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.