मुख्यमंत्री ने किया 6 करोड़ की लागत से निर्मित राज्य की प्रथम सर्वसुविधायुक्त डिजिटल लायब्रेरी का लोकार्पण

1 min read

बिलासपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नूतन चौक में नगर निगम बिलासपुर द्वारा स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट अंतर्गत 6 करोड़ की लागत से तैयार किये गये तीन मंजिला सेंट्रल लायब्रेरी का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने सेंट्रल लाईब्रेरी के एक्जीबिशन हॉल, फूड कोर्ट, डिजीटल लाईब्रेरी और इन्क्यूबेशन सेंटर का शुभांरभ कर अवलोकन किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर बिलासपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड और नगर निगम द्वारा लगाई गई शासकीय योजनाओं पर आधारित प्रदर्शनी का अवलोकन किया।

उल्लेखनीय है कि यह राज्य की प्रथम डिजिटल लायब्रेरी है। इसमें ऑनलाईन पुस्तकों की सुविधा मिलेगी। सेंट्रल लायब्रेरी से युवाओं को अपने स्टार्ट अप को एक आयाम देने में भी मदद मिलेगी। सर्वसुविधायुक्त डिजिटल लायब्रेरी में भूतल पर एक्जीबिषन हॉल एवं कान्फ्रेंस हॉल की सुविधा होगी। बिलासपुर सेंट्रल लाईब्रेरी में प्रिंट और डिजिटल कलेक्शन की पुस्तकें उपलब्ध होगी, जो बिलासपुर के छात्रों और पठन प्रेमियों के लिए उपलब्ध होंगे। छात्र डिजिटल लाईब्रेरी से महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त कर विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए अध्ययन कर सकेंगे। सेंट्रल लाईब्रेरी में डिजिटल लाईब्रेरी से वेब पोर्टल पर या मोबाईल ऐप के माध्यम से प्रीमियम सामग्री की उपलब्धता होगी। इसमें असिमित डाउनलोड की भी सुविधा रहेगी।

सभी प्रकार के मोबाईल फोन, टेबलेट, डेस्कटाप, लैपटाप में पढ़ने योग्य और स्मार्ट क्लास रूम की सुविधा है। बिलासपुर शहर के स्कूल और कालेज भी लाईब्रेरी की सदस्यता लेकर कैम्पस के भीतर अपने स्वंय की क्रियाशीलता और रचनाओं का प्रदर्शन कर सकते है और मुद्रित पुस्तकें, स्मार्ट बुक्स, प्रतियोगिता परीक्षाओं से संबंधित जानकारी हासिल कर सकेंगे। एक्टिव ई बुक्स, लैग्वेंज लर्निंग ई बुक्स, हिन्दी और अंग्रेजी की पुस्तकें, प्रसिद्ध नोबल पुरस्कार विजेताओं की पुस्तकें, मनोरंजन, खेल, इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी, कला और विज्ञान, इतिहास, कानून और राजनिति आदि से संबंधित पुस्तकें लाईब्रेरी में मौजूद होगी।

इनक्यूबेशन सेंटर से र्स्टाटअप को प्रशिक्षित करके नये आयाम और उद्यमिता को बढ़ावा दिया जायेगा। स्टार्टअप को बुनियादी ढांचे, प्रबंधन, कानूनी, वित्तीय और नेटवर्किंग, सहायता प्रणाली जैसी विभिन्न सेवायें प्रदान की जाएगी। इनक्यूबेशन सेंटर के माध्यम से बिलासपुर को एक र्स्टाट हब बनाने का प्रयास किया जाएगा। इसी प्रकार से सेंट्रल लाईब्रेरी स्थित एक्जिबेशन हॉल और फूड कोर्ट में करीब 6 हजार वर्गफीट में एक्जिबेशन हॉल बनाया गया है। लाईब्रेरी परिसर में आकर्षक उद्यान, फाउंटेन और पार्किंग की सुविधा उपलब्ध कराई गई है।

सेंट्रल लायब्रेरी के चारों ओर आकर्षक लैण्डस्केपिंग एवं लाईटिंग की गयी है। सेंट्रल लायब्रेरी में सेंटर लायब्रेरी में प्रथम तल पर 2 करोड़ की लागत से इन्क्यूबेशन सेंटर होने के साथ-साथ स्टिल्ट फ्लोर में 998 वर्गमीटर में चार पहिया वाहनां की पार्किंग एवं दो पहिया वाहनों के लिये भवन के दोनों ओर 365 वर्गमीटर पर पार्किंग क्षेत्र भी बनाये गये हैं।  इस अवसर पर छत्तीसगढ़ शासन गृह और लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू, कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे, नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया सहित अन्य जनप्रतिनिधि मौजूद थे।

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.