बाइडेन-हैरिस के सत्ता संभालने से अमेरिकी बाजार खुश, जीत और शपथ ग्रहण के बीच दर्ज की गई ऐतिहासिक तेजी

1 min read

वॉशिंगटन. जो बाइडेन के राष्ट्रपति बनने का असर अमेरिका की अर्थव्यवस्था पर तुरंत नजर आने लगा है. बाइडेन के शपथ लेते ही अमेरिकी शेयर बाजार ने जबरदस्त छलांग लगाई है. डाउ जोंस ने 0.83%, ‘एस एंड पी 500’ ने 1.39% और नेस्डेक ने 1.97% की छलांग लगाई है. आपको बता दें कि चुनाव में जो बाइडेन की जीत के बाद से अब तक अमेरिकी शेयर बाजार करीब 15% की जबरदस्त छलांग लगा चुका है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक बाइडेन के चुनाव जीतने से लेकर शपथ ग्रहण तक अमेरिकी बाजार में लगातार तेजी देखी गई. CFRA के मुताबिक ‘एस एंड पी 500’ में करीब 13% की तेजी देखी गई. आम तौर पर अमेरिका में राष्ट्रपति के चुनाव के बाद शेयर बाजार में तेजी देखी जाती है लेकिन बाइडेन के चुनाव जीतने और शपथ ग्रहण तक बाजार में अब तक का सबसे बड़ा उछाल है.

राष्ट्रपति ट्रंप की जीत के बाद भी शेयर बाजार में तेजी देखी गई थी. रिपोर्ट के मुताबिक ट्रंप की जीत और शपथ ग्रहण के बीच बाजार में छह फीसदी की तेजी देखी गई थी. बाइडेन से पहले ऐसी मार्केट में ऐसी रिकॉर्ड तेजी 1961 में जॉन एफ कैनेडी की जीत के बाद दर्ज की गई थी. उनकी जीत और शपथ ग्रहण के बीच 73 दिनों का फासला था. इस दौरान ‘एस एंड पी 500’ आठ प्रतिशत तेजी से चढ़ा.

आपको जानकर हैरानी होगी कि राष्ट्रपति ओबामा की जीत और शपथ ग्रहण के बीच मार्केट में 20 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई थी. दरअसल उस दौरान मार्केट में निवेशक लेहमैन ब्रदर्स की घटना के चलते निराश थे. बराक ओबामा 2008 में राष्ट्रपति चुने गए थे, उसी वक्त लेहमन ब्रदर्स दिवालिया घोषित होने वाली सबसे बड़ी अमेरिकी कंपनी बन गई, इससे मार्केट हिला हुआ था.

बाइडेन और हैरिस ने ली कड़ी सुरक्षा के बीच शपथ
अमेरिका में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच आज डेमोक्रेटिक नेता जो बाइडन ने देश के 46वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली. वहीं, कमला देवी हैरिस ने देश की पहली महिला उपराष्ट्रपति के तौर पर शपथ ली. इस दौरान डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों को रोकने के लिए कैपिटल बिल्डिंग (संसद भवन) के आसपास हजारों सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए थे. दो सप्ताह पहले यानी 6 जनवरी को ट्रंप के समर्थकों ने कैपिटल बिल्डिंग में हिंसा की थी.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.