पुलिस ने निगरानी बदमाश को हथकड़ी लगाकर पूरे शहर में घुमाया

बिलासपुर. रतनपुर पुलिस ने आज जुआरियों को अपने जाल में फंसाकर लूट लेने वाले एक निगरानी बदमाश को हथकड़ी लगाकर शहर पूरी बस्ती में घुमाया। यहां 10 जुआरी भी एक अड्डे से गिरफ्तार कर 62 हजार 500 रुपये जब्त किये गये। राजधानी में गृह मंत्री की पुलिस अधिकारियों के साथ बढ़ते अपराधों पर लगाम के लिये हुई बैठक का असर दिखाई दे रहा है। जुआ सट्टा के धंधे में लिप्त अपराधियों पर कार्रवाई तेज की गई है। पचपेड़ी निवासी चंद्रशेखर वर्मा ने 23 नवंबर को रतनपुर पुलिस में शिकायत की थी कि दद्दू उर्फ यशवंत सोनी ने उससे मारपीट कर चार हजार रुपये लूट लिये।


पुलिस के पास उसके खिलाफ पहले से शिकायतें दर्ज हैं। उसे गुंडा लिस्ट में शामिल कर पहले भी जुआ खेलने वालों से मारपीट कर लूटपाट करने के मामले दर्ज किये जा चुके हैं और गिरफ्तारी की जा चुकी थी। उसके एक साथी श्याम सारथी को भी चार दिन पहले एक मामले में जेल भेजा गया था। वह रतनपुर इलाके के खूंटाघाट, सीपत, मल्हार के बाजार व मेलों में जुआ खिलाने का गिरोह संचालित करता है। उसे इलाके में स्ट्राइगर गैंग के नाम से जाना जाता है। जुआरियों के हारने की स्थिति में उसकी मोबाइल, घड़ी, पर्स, क्रेडिट कार्ड आदि वह जब्त कर लेता था साथ ही नगद रकम को भी लूट लेता था। चूंकि वह ये वारदातें जुआरियों के साथ करता था इसलिये पुलिस व बदनामी के डर से कोई उनके खिलाफ शिकायत नहीं करता था। पचपेड़ी के चंद्रशेखर वर्मा की शिकायत के बाद उसकी तलाश तेज की गई और आज रतनपुर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। उससे लूटी गई रकम को भी बरामद कर लिया गया। पुलिस ने आज शाम गिरफ्तारी के बाद उसे हथकड़ी लगाकर शहर में घुमाया। उसे कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। एकादशी की देर रात रतनपुर पुलिस ने बाबा आटो सेंटर के बरामदे में जुआ खेलते हुए 10 लोगों को गिरफ्तार किया। इनसे 62 हजार 500 रुपये बरामद किये गये। सभी के खिलाफ 13 जुआ एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है।

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.