नेपाल और बांग्लादेश को आज भेजी जाएगी कोविशील्ड वैक्सीन, भूटान को मिले 1.5 लाख डोज

1 min read

नई दिल्ली. देश में कोरोना वैक्सीनेशन की शुरुआत के बाद भारत अब पड़ोसी देशों को वैक्सीन की डोज भेजकर मदद करना शुरू कर दिया है. भारत ‘मिशन मैत्री’ के तहत बांग्लादेश और नेपाल को कोरोना वैक्सीन की खेप भेजेगा. भारत की ओर से नेपाल को 10 लाख जबकि बांग्लादेश को 20 लाख डोज भेजेगा. ये डोज सीरम की वैक्सीन कोविशील्ड है. वैक्सीन का ये डोज पुणे से मुंबई एयरपोर्ट पहुंच चुका है. वैक्सीन भेजने को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि जल्द ही कई अन्य देशों में भी भेजा जाएगा.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा कि वैश्विक समुदाय को स्वास्थ्य सेवाओं की जरूरतों को लेकर भारत लंबे समय से भरोसेमंद साझीदार रहा है. कल से कोरोना वैक्सीन की कई देशों में आपूर्ति शुरू हो जाएगी और आने वाले दिनों में यह और तेज किया जाएगा.

इससे पहले भारत ने भूटान को गिफ्ट के तौर पर कोरोना वायरस वैक्सीन कोविशील्ड के 1.5 लाख डोज भेजे हैं. ये वैक्सीन मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज इंटरनेशनल एयरपोर्ट से भूटान के थिम्फु के लिए रवाना कर दी गई.

बता दें कि भारत में अब तक 4लाख 54 हज़ार 49 लोगो को कोरोना की वैक्सीन दी जा चुकी है. कुछ राज्यों और केंद्र शाषित प्रदेशो में ये रफ्तार काफी अच्छी तो कुछ में बहुत सुस्त है. स्वास्थ्य मंत्रालय की ब्रीफिंग में नीति आयोग के सदस्य डॉ वी के पॉल कहा की कुछ भ्रम की वजह से स्वास्थ कर्मी नही ले रहे है तो दुख की बात है.

विदेश मंत्रालय ने कहा कि घरेलू जरूरतों को ध्यान में रखते हुए भारत आगामी हफ्ते, महीने में चरणबद्ध तरीके से सहयोगी देशों को कोविड-19 टीकों की आपूर्ति करेगा. दूसरे देशों को टीके की आपूर्ति करते समय यह सुनिश्चित किया जाएगा कि देश के टीका निर्माताओं के पास घरेलू जरूरतों को पूरा करने के लिए पर्याप्त भंडार हों.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.