धान खरीदी पारदर्शी हो, एसडीएम मॉनिटरिंग करें, खराब बारदाने लौटायें : कलेक्टर

बिलासपुर. कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर ने बुधवार को विकासखंड बिल्हा के धान खरीदी केन्द्र सेंदरी का औचक निरीक्षण किया। कलेक्टर ने खरीदी केन्द्र प्रभारी को निर्देशित करते हुए कहा कि धान खरीदी की प्रक्रिया पूरी पारदर्शी एवं शासन द्वारा तय मानकों के अनुसार होनी चाहिये।
इस दौरान कलेक्टर ने किसानों को टोकन जारी करने की प्रक्रिया की जानकारी ली। कलेक्टर ने किसानों से चर्चा करते हुए उन्हें उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं के बारे में पूछा। उन्होंने खरीदी केन्द्र में धान की गुणवत्ता का परीक्षण किया तथा धान में नमी के प्रतिशत की जांच मापक यंत्र से की। उन्होंने निर्माणाधीन चबूतरों का जल्द निर्माण करने एवं फड़ में रखे जाने वाले बोरों के बीच पर्याप्त जगह रखने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने बारदानों की उपलब्धता की भी जानकारी ली। उन्होंने प्रबंधक से कहा कि बारदानों की जांच कर पुराने फटे बारदाने मिलर्स को वापस कर दें। कलेक्टर ने स्टैगिंग, कैप कव्हर की भी जानकारी लेते हुए यह कार्य व्यवस्थित रूप से करने कहा।

कलेक्टर ने समिति प्रबंधक से कहा कि धान बेचने वाले किसानों को किसी भी प्रकार की असुविधा न हो इस बात का विशेष ध्यान रखा जाये। उन्होंने एसडीएम को सतत् रूप से मॉनिटरिंग करने के निर्देश भी दिये। निरीक्षण के दौरान एसडीएम देवेन्द्र पटेल, फूड इंस्पेक्टर सहित अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद थे। कलेक्टर ने समिति प्रबंधक से कहा कि धान बेचने वाले किसानों को किसी भी प्रकार की असुविधा न हो इस बात का विशेष ध्यान रखा जाये। उन्होंने एसडीएम को सतत् रूप से मॉनिटरिंग करने के निर्देश भी दिये। निरीक्षण के दौरान एसडीएम देवेन्द्र पटेल, फूड इंस्पेक्टर सहित अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.