गौरेला-पेंड्रा-मरवाही में खलिहान में रखी 6 एकड़ फसल जलकर खाक, घरों तक पहुंची लपटें

1 min read

गौरेला. छत्तीसगढ़ के गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले में एक किसान की खेत में रखी धान की फसल जलकर खाक हो गई। फसल में लगी आग की लपटें इतनी ज्यादा थी कि आसपास के घरों तक पहुंच गईं। हालांकि बड़ा हादसा होने से पहले लोगों ने पानी डालकर आग पर काबू पा लिया। बताया जा रहा है कि आग से करीब 6 एकड़ फसल जल गई है। मामला गौरेला क्षेत्र का है।

गौरेला से करीब 10 किमी दूर ग्राम पकरिया में स्कूल टोला में गोकुल सुरेस्वर अपनी बेटी के साथ रहता है। उसने बाड़ी में ही घर के पास मिसाई के लिए खलिहान बनाया था। इसमें करीब 100 बोरा विष्णु भोग धान की किस्म रखी हुई थी। सोमवार शाम अचानक धान की खरही में से धुआं उठता देख उसने आसपास के लोगों को आवाज लगाई। सभी मौके पर पहुंचे, लेकिन इससे पहले आग तेजी से बढ़ती चली गई।

खलिहान के पास ही गांव के 10 लोगों के भी घर हैं। आग की लपटें घरों तक पहुंची तो लोगों ने दो मोटर पंप लगाकर पानी से बुझाने का प्रयास किया। थोड़ी देर बाद लोगों ने आग पर तो काबू पा लिया, लेकिन खलिहान में रखा सारा धान जलकर खाक हो चुका था। बताया जा रहा है कि धान जलने से किसान को करीब 1.5 लाख रुपए का नुकसान हुआ है। इस मामले में गौरेला थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.