कोरोना जांच हुई सस्ती, निर्धारित फीस से अधिक मांगने पर करें शिकायत, तत्काल होगी कार्रवाई

File Photo

रायपुर. प्रदेश में ज्यादा से ज्यादा जांच हो, इसके लिए प्रदेश के निजी अस्पतालों और पैथोलॉजी लैब्स में अब एंटीजन टेस्ट 400 रुपए, आरटीपीसीआर 750 और ट्रू नॉट टेस्ट 15 सौ रुपए में होंगे। घर या अस्पताल से सैंपल कलेक्शन पर दो सौ रुपए अतिरिक्त शुल्क देना होगा। इसमें सैंपल कलेक्शन, ट्रांसपोर्ट शुल्क, जांच शुल्क एवं कंज्युमेबल, पीपीई किट इत्यादि का शुल्क शामिल है। स्वास्थ्य विभाग के आदेश के साथ ही नई दरें तत्काल प्रभाव से लागू हो गई हैं।

कोरोना संक्रमण की जांच में तेजी लाने राज्य सरकार ने निजी अस्पतालों और पैथोलॉजी लैब्स में जांच की नई दरें तय की हैं। प्रदेश के निजी अस्पतालों और लैब्स की मनमानी वसूली की मिल रही शिकायतों के बाद राज्य सरकार ने जांच की दरें तय की थी। सीएम भूपेश बघेल के निर्देश पर सितंबर में रेट कार्ड जारी किया था। इसके तहत आरटीपीसीआर जांच 1600 रुपए और जांच के लिए संभावित मरीज के घर से सैंपल लेने पर 1800 रुपए देना था। प्रदेश के बाहर स्थित लैब्स में आरटीपीसीआर जांच की दर दो हजार रुपए तय की गई थी। घर से सैंपल कलेक्शन किए जाने पर 2200 रुपए लेना तय किया गया था। इसी तरह निजी लैबों और अस्पतालों में रैपिड एंटीजन टेस्ट के लिए 900 रुपए का शुल्क तय किया गया था। इन शुल्कों में सैंपल कलेक्शन, परिवहन, जांच, कन्जुमेबल्स, पीपीई किट इत्यादि शुल्क शामिल हैं। वही निजी संस्थानों द्वारा निर्धारित राशि को लेकर नियमों का मापदंड न करने पर कार्रवाई किए जाने की भी बात कही गई है।

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.