कुत्ते की वफादारी का अनोखा किस्सा, मालकिन से मिलने के लिए अस्पताल के बाहर बिताए कई दिन

1 min read

इंस्ताबुल. कुत्ते की वफादारी के किस्से तो बहुत सुने होंगे, लेकिन तुर्की में एक अलग ही मामला देखने को आया है. दरअसल, यहां अस्पताल में भर्ती मालकिन से मुलाकात की तड़प उसे खींच कर अस्पताल तक ले आई. एक समर्पित कुत्ता ने अपनी मालकिन के इंतजार में कई दिन उस अस्पताल के बाहर बिताए, जहां उसकी मालकिन का इलाज चल रहा था. जानवर अपनी मालकिन को ले जानेवाली एंबुलेंस के पीछे-पीछे अस्पताल तक पहुंचा था.

मालकिन के इंतजार में कुत्ते ने बिताए कई दिन

निजी समाचार एजेंसी के मुताबिक, इस दौरान कुत्ता रोजाना अपनी मालिकन की खोज खबर लेने आता. महिला की बेटी ने बताया कि उसे घर वापस ले गई थी, लेकिन पालतू जानवर भागकर बार-बार अस्पताल पहुंच जाता. अस्पताल के सुरक्षाकर्मी ने समाचा एजेंसी को बताया, “कुत्ता रोजाना करीब 9 बजे आता और रात तक मुलाकात के इंतजार में बैठा रहता.” उन्होंने ये भी कहा कि कुत्ता अस्पताल के अंदर नहीं जाता था, मगर जब दरवाजा खुलता तो अपना सिर अंदर धकेल देता.

अस्पताल में भर्ती मालिकन से मुलाकात की तड़प

बुधवार को कुत्ते की मालिकन से मुलाकात को आखिरकार संभव बनाया गया. महिला को व्हीलचेयर में बिठाकर जानवर से थोड़ी देर के लिए मिलने दिया गया. महिला मरीज ने बताया, “उसको मेरे साथ रहने की आदत पड़ गई है, और मुझे भी बरारर उसकी कमी खलती है.” बाद में मालकिन को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया. इस तरह महिला मरीज ठीक होने के बाद कुत्ते के साथ वापस घर आ गई. आपको बता दें कि मालकिन इलाज के लिए अस्पताल में 14 जनवरी को भर्ती हुई थीं, मगर उसके डिस्चार्ज होने तक कुत्ता पाबंदी से अस्पताल के बाहर मुलाकात के इंतजार में पाया गया.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.