कमला हैरिस की जीत पर भारत में कई जगह जश्न का माहौल, ये पार्क दे रहा है ऐसा अनूठा ऑफर कि जान हैरान रह जाएंगे

1 min read

भले ही अमेरिका में जो बाइडन नए राष्ट्रपति चुने गए हैं. लेकिन भारत में चर्चे अमेरिका की नयी उपराष्ट्रपति भारतीय मूल की कमला हैरिस की हो रही है. भारत से संबंध होने के चलते हैरिस की इस जीत के चर्चे पूरे देश में हैं. कमला हैरिस की जीत पर खुशी जताते हुए, एक थीम पार्क ने उनकी जीत के सम्मान में खास ऑफर निकाला.

वंडरला (Wonderla) दे रहा है कमला नाम के लोगों को मुफ्त एंट्री
अगर आपका नाम कमला है तो दक्षिण भारत के मनोरंजन थीम पार्क चेन वंडरला में आपको आज यानी रविवार को मुफ्त एंट्री मिलेगी. वंडरला के बेंगलुरू, हैदराबाद और कोच्चि के पार्क में आप आज मुफ्त एंट्री ले सकते हैं. यहीं नहीं यदि आपका नाम ‘कमल’ या ‘कमलम’ भी है तो भी आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं.

ऑफर की शर्तें

इस ऑफर में कुछ शर्तें भी हैं. इसके लिए आपको पार्क में अपना एक वैध पहचान पत्र दिखाना होगा. हर पार्क में यह ऑफर कमला नाम के केवल शुरुआती 100 लोगों के लिए ही मान्य होगा. पार्क के अधिकारियों ने फेसबुक पर एक पोस्ट शेयर करते हुए लिखा, “यह रविवार सभी कमला की जीत का दिन है. कमला नाम का कोई भी अतिथि मान्य फोटो-आईडी दिखाकर 24 जनवरी 2021 को पार्क में मुफ्त प्रवेश ले सकता है. यह ऑफर हमारे बैंगलोर, कोच्चि और हैदराबाद स्थित पार्कों के लिए वैध है. हर पार्क में कमला नाम के केवल पहले 100 मेहमानों की एंट्री पर ही ये मान्य होगा. कमला के तहत आने वाले नाम के भिन्न रूपों में ‘कमल’ और ‘कमलम’ शामिल हैं. इसके अलावा कमला नाम का अन्य कोई रूप इस ऑफर के लिए पात्र नहीं होगा.”

भारतियों के लिए खास है कमला हैरिस की जीत

भारतीय मूल की कमला हैरिस अमेरिका ने अमेरिका के उपराष्ट्रपति पद की शपथ लेकर इतिहास रच दिया. वह पहली महिला, अश्वेत और भारतवंशी उपराष्ट्रति बनीं. हैरिस की जीत भारतीयों के लिए काफी महत्व रखती है. हैरिस की मां श्यामला गोपालन तमिलनाडु के चेन्नई से हैं. वे 1960 में भारत के तमिलनाडु से यूसी बर्कले पहुंची थीं, जबकि उनके पिता डोनाल्ड जे हैरिस 1961 में ब्रिटिश जमैका से इकोनॉमिक्स में स्नातक की पढ़ाई करने यूसी बर्कले आए थे. यहीं अध्ययन के दौरान दोनों की मुलाकात हुई और मानव अधिकार आंदोलनों में भाग लेने के दौरान उन्होंने विवाह करने का फैसला कर लिया. कमला हैरिस का जन्म 1964 में ऑकलैंड में हुआ था. कमला हैरिस खुद भी कई बार भारत से जुड़ी यादों को साझा करती रहती हैं. उनकी जीत के बाद थुलसेंद्रपुरम के लोगों ने खूब जश्न मनाया था. हैरिस के दादजी का जन्म इसी गांव में हुआ था.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.