इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में हुई एक टेस्ट की कटौती, घरेलू क्रिकेट की वापसी पर भी BCCI ने लिया फैसला

1 min read

साल 2021 में इंडिया में इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी होना तय है. बीसीसीआई ने एलान किया है कि टीम इंडिया अपने घर में इंग्लैंड के खिलफा फरवरी-मार्च में चार टेस्ट की सीरीज खेलेगी. हालांकि इंग्लैंड और इंडिया के बीच पहले पांच टेस्ट खेले जाने थे, लेकिन उसमें एक मैच की कटौती हुई है. इसके अलावा इंग्लैंड के साथ भारत पांच ट्वेंटी-ट्वेंटी और तीन वनडे मैच भी खेलेगा.

भारतीय क्रिकेट बोर्ड अध्यक्ष सौरव गांगुली ने एक ऑनलाइन कार्यक्रम में बात करते हुए फरवरी-मार्च में होने वाली श्रृंखला के कार्यक्रम की पुष्टि की. उन्होंने कहा, ”इंग्लैंड चार टेस्ट मैचों, तीन वनडे और पांच टी20 के लिये भारत का दौरा कर रहा है, द्विपक्षीय सीरीज कराना काफी आसान है क्योंकि इसमें लोगों की संख्या कम होती है.”

बता दें कि लिमिटिड ओवर्स की सीरीज में पहले तीन टी20 और इतने ही वनडे शामिल थे जिसका आयोजन इस साल सितंबर में किया जाना था लेकिन इसे महामारी के कारण स्थगित कर दिया गया था. नए कार्यक्रम में टी20 मैचों की संख्या को बढ़ा दिया गया है. बोर्ड ने भारत में अगले साल अक्टूबर-नवंबर में होने वाले विश्व टी20 को ध्यान में रखते हुए ऐसा किया है.

घरेलू क्रिकेट की भी होगी वापसी

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने घरेलू क्रिकेट की वापसी के बारे में भी बात की है. सौरव गांगुली का कहना है कि अगले साल की शुरुआत में ही घरेलू क्रिकेट की वापसी की पूरी कोशिश की जाएगी. बीसीसीआई अध्यक्ष ने कहा, ”हमारा घरेलू सीजन जल्द ही शुरू होगा.”

ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि अगले साल जनवरी में बीसीसीआई सैयद अली ट्रॉफी के लिए नेशनल टी20 चैंपियनशिप का आयोजन कर सकती है. इस टूर्नामेंट के बाद ही रणजी ट्रॉफी को लेकर तस्वीर साफ हो सकती है.

Copyright © All rights reserved. | CG Varta.com | Newsphere by AF themes.